भारत और चीन की सीमा (वास्तविक नियंत्रण रेखा) पर लद्दाख के गलवान में हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों के बीच तनाव कम होने की और बजाय बढ़ गया है। इस हिंसक झड़प में एक भारतीय अफसर और दो जवान शहीद होने हो गए है। शहीदों में एक कमांडिंग अफसर है। इधर, इस घटना के बाद दोनों देशों के सेना के उच्च अधिकारी मौके पर बातचीत करके स्थिति को संभालने में जुटे हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तीनों सेना प्रमुखों, विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर और चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत के साथ बैठक बुलाई थी। उसके बाद फिर से उन्होंने एक दिन में दूसरी उच्चस्तरीय बैठक सेना प्रमुख और विदेश मंत्री एस.जयशंकर के साथ की।

बता दें कि भारतीय और चीनी सैनिकों में पैंगोंग सो इलाके में 5 मई को हिंसक झड़प हुई थी जिसके बाद से दोनों पक्ष वहां आमने-सामने थे और गतिरोध बरकरार था। यह 2017 के डोकलाम घटनाक्रम के बाद सबसे बड़ा सैन्य गतिरोध बन रहा था। छह जून को हुई थी वार्ता दोनों देशों के बीच मौजूदा तनाव को लेकर अब तक की उच्च स्तरीय वार्ता 6 जून को हुई थी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.