मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच ने ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनी स्पीक एशिया के प्रमुख समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। स्पीक एशिया पर लाखों निवेशकों को 2,200 करोड़ रुपए का चूना लगाने का आरोप है। यह कंपनी लोगों से सर्वे फॉर्म भरवाने के बदले तगड़ी कमाई का वादा करती थी। मुंबई पुलिस के डीसीपी धनंजय कुलकर्णी ने बताया कि स्पीक एशिया के प्रमुख संजीव मेहता को मुंबई से गिरफ्तार किया गया है, जबकि अन्य 5 लोग दूसरी जगहों से पकड़ में आए हैं। इन सभी को 7 फरवरी तक के लिए पुलिस कस्टडी में रखा गया है। पुलिस के अनुसार स्पीक एशिया अब तक करीब 900 करोड़ रुपए सिंगापुर ट्रांसफर कर चुकी है। ये पैसे भारत से सिंगापुर के कुछ बैंकों में भेजे गए और वहां से इन्हें दुबई, इटली और यूके भेजा गया। हालांकि, यूके से पैसे वापस भारत और दुबई आ गए।

सिंगापुर में रजिस्टर स्पीक एशिया नाम की ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनी 2010 में भारत में आई थी। कंपनी ने एक मल्टी मार्केटिंग पिरामिड मॉडल के जरिए तगड़ा रिटर्न पाने की योजना शुरू की थी। यह ऑनलाइन सर्वे मार्केटिंग कंपनी 11000 रुपए का वेब सब्सक्रिप्शन देती थी, जिसके बदले में निवेशकों को एक सर्वे फॉर्म भरना होता था। कंपनी के खिलाफ अलग-अलग राज्यों में केस दर्ज हैं।

rupee-corruption-531828c23f7bc_exlst

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.