अहमदाबाद । गुजरात के दबंग नेता के रूप में चर्चित पोरबंदर क्षेत्र से भाजपा के सांसद विट्ठल भाई रादड़िया ने अपनी विधवा पुत्रवधू का पुनर्विवाह करा कर राजनीति और समाज में अनूठा उदाहरण पेश किया है। इतना ही नहीं सांसद ने कन्यादान के रूप में पुत्रवधू को दिवंगत पुत्र के हिस्से की सौ करोड़ की संपत्ति भी दे दी है।26_09_2014-radadiya27

विटठल रादड़िया के छोटे पुत्र कल्पेश की करीब नौ माह पूर्व सड़कहादसे में मौत हो गई थी। कल्पेश की पत्नी मनीषा, पांच वर्षीय पुत्र राही व पुत्री जिया संग ससुराल में ही रहती थी। भाजपा सांसद ने बिरादरी के लोगों से चर्चा के बाद नवरात्र में अपने ही एक कर्मचारी के बेटे हार्दिक से मनीषा का विवाह कर दिया।

राजकोट जिले के जसापर निवासी हार्दिक विट्ठल भाई के पुत्र ललित के सूरत स्थित दफ्तर में काम करता है। भाजपा सांसद के बड़े पुत्र और राज्य के पर्यटन राज्यमंत्री जयेश रादडिया के मुताबिक, पिता ने हमेशा सामाजिक समरसता के सिद्धांत का अनुसरण किया है। पुत्रवधू के पुनर्विवाह के फैसले से समाज में अन्य लोगों को प्रेरणा मिलेगी। ज्ञात हो,गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान टोल नाके पर कर्मचारी को बंदूक दिखाने के मामले में विट्ठल भाई की दबंग नेता की छवि उभरी थी। चुनाव बाद कांग्रेसी नेताओं से अनबन के चलते वे भाजपा में शामिल हो गए थे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.