कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या और विकास दुबे के सहयोगी शिवम दुबे को एसटीएफ ने सर्विलांस की मदद से गुरुवार रात को दबोच लिया। शिवम के रिश्तेदार अतुल दुबे को पुलिस ने घटना के दूसरे दिन तीन जुलाई को ही कांशीराम निवादा गांव में सर्च के दौरान एनकाउंटर में मार गिराया था।

एसटीएफ के सीओ टीबी सिंह ने बताया कि बिकरू कांड के फरार नामजद आरोपित शिवम दुबे को चौबेपुर की एक नामी डिटर्जेंट कंपनी के पास से गिरफ्तार कर लिया है। देर रात तक चौबेपुर पुलिस और एसटीएफ की टीमें शिवम से पूछताछ में जुटी रहीं। शिवम ने बिकरूकांड से जुड़ी कई अहम जानकारियां अफसरों को दी है। पुलिस पर हमला करने के दौरान शिवम के साथ ही उसका रिश्तेदार एनकाउंटर में मारा गया अतुल दुबे भी शामिल था।

अन्य आरोपितों की तलाश जारी
एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्व ने बताया कि एफआईआर में नामजद आरोपित राजाराम उर्फ प्रेम कुमार, विकास का भांजा शिव तिवारी, विष्णु पाल यादव उर्फ जिलेदार, राम सिंह, रामू बाजपेई, गोपाल सैनी, हीरू दुबे, बउअन शुक्ला और बाल गोविंद फरार हैं। इन सभी की तलाश में पुलिस और एसटीएफ की टीमें काम कर रही हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.