Home धर्म व संस्कृति पद्मा एकादशी : इस दिन करवट बदलते हैं श्री हरि विष्णु

पद्मा एकादशी : इस दिन करवट बदलते हैं श्री हरि विष्णु

0
पद्मा एकादशी : इस दिन करवट बदलते हैं श्री हरि विष्णु

भाद्रपद माह में शुक्ल पक्ष एकादशी पद्मा एकादशी या परिवर्तिनी एकादशी कहलाती है। इस एकादशी के दिन भगवान श्री हरि विष्णु के वामन अवतार की पूजा की जाती है। मान्यता है कि इस एकादशी के दिन भगवान श्री हरि विष्णु क्षीर सागर में शयन करते हुए करवट लेते हैं इसलिए इस एकादशी को परिवर्तिनी एकादशी कहा जाता है। इस पावन दिन भगवान के वामन अवतार की पूजा करने से भगवान ब्रह्मा, भगवान विष्णु एवं भगवान शिव की पूजा का फल प्राप्त हो जाता है।

यह एकादशी जयंती एकादशी भी कहलाती है। इस व्रत में विष्णु सहस्रनाम एवं रामायण का पाठ करना उत्तम फलदायी है। भगवान श्री हरि को पीले पुष्प अर्पित करें। उनका स्मरण करें। व्रत में धूप, दीप, नेवैद्य और पुष्प आदि से पूजा करने का विधान है। इस व्रत में रात्रि जागरण करते हुए भजन-कीर्तन करने का विशेष महत्व है। संतान सुख प्राप्ति के लिए यह व्रत अत्यंत कल्याणकारी है। इस व्रत में माता लक्ष्मी का भी पूजन किया जाता है। पद्मा एकादशी के दिन सामर्थ्य अनुसार दान करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है। इस दिन चावल, दही एवं चांदी का दान करना फलदायी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.