आज स्कंद षष्ठी, कुमार षष्ठी है। षष्ठी तिथि का क्षय है। आज राहुकाल का समय प्रात: 10 बज कर 30 मिनट से मध्याह्न 12 बजे तक रहेगा।

सूर्य उत्तरायण। सूर्य उत्तर गोल। वर्षा ऋतु। 26 जून, शुक्रवार, 5 आषाढ़ (सौर) शक 1942, 12 आषाढ़ मास प्रविष्टे 2077, 4 जिल्काद सन् हिजरी 1441, आषाढ़ शुक्ल पंचमी प्रात: 7 बज कर 3 मिनट तक उपरांत षष्ठी प्रात: 5 बज कर 4 मिनट तक उपरांत सप्तमी, मघा नक्षत्र प्रात: 11 बज कर 26 मिनट तक तदनंतर पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र, सिद्धि (असृक) योग रात्रि 1 बज कर 54 मिनट तक पश्चात व्यतीपात योग, बालव करण, चंद्रमा सिंह राशि में (दिन-रात)।

राशिफल 26 जून 2020

ग्रहों की स्थिति-शुक्र वृषभ राशि में हैं। सूर्य, बुध और राहु मिथुन राशि में हैं। चंद्रमा सिंह राशि, केतु धनु राशि, गुरु और शनि अभी भी मकर राशि के हैं। मीन  राशि में मंगल चल रहे हैं। एक बड़ी अच्‍छी खबर है। शुक्र मार्गी हो गए हैं। वृषभ और तुला राशि के लिए खुशखबरी है। स्थिति में, आपस के सम्‍बन्‍धों में, ग्‍लैमरस जगत के लिए, विपरीत लिंगी सम्‍बन्‍धों में सुधार होगा। यह एक सकारात्‍मक बात है लेकिन अभी भी ग्रहण योग चल रहा है। गुरु और शनि अभी भी वक्री गति से चल रहे हैं। बुध भी वक्री है इसलिए अभी भी बहुत ज्‍यादा सावधानी से हम लोगों को चलना होगा।

राशिफल-
मेष-
मानसिक चंचलता पर ध्‍यान दें। स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। प्रेम में तू-तू, मैं-मैं से बचें। व्‍यवसायिक स्थिति पहले से बेहतर दिख रही है। लाल वस्‍तु पास रखें।

वृषभ-घर में उत्‍सव सा माहौल बनेगा। भूमि, भवन, वाहन की खरीदारी पर विचार हो सकता है। आपके लग्‍नेश के मार्गी होने की वजह से आपका इम्‍यून सिस्‍टम बहुत अच्‍छा हो गया है। स्‍वास्‍थ्‍य के मामले में स्थिति सुधर रही है लेकिन लापरवाही मत करिएगा क्‍योंकि आपके ठीक बगल में ग्रहण भाव बना हुआ है। यहां से संक्रमण आ सकता है। सावधानी बरतें। बाकी ठीक ठाक है। व्‍यवसायिक मामले भी सुधर रहे हैं। मां काली को प्रणाम करें।

मिथुन-स्थिति अभी सही नहीं है। संक्रमण की आशंका है। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम और व्‍यापार तीनों अभी अच्‍छी स्थिति में नहीं चल रहे हैं। गणेश जी की वंदना करते रहें।

कर्क-साझेदारों में समस्‍या हो सकती है। शत्रु पक्ष नजदीक है इसलिए बचकर पार करने की जरूरत है लेकिन बचाव पक्ष आपका मजबूत है। कोई बहुत नुकसान नहीं कर पाएगा। वाणी पर नियंत्रण रखें। प्रेम की स्थिति सही है। व्‍यवसायिक स्थिति भी धीरे-धीरे सुधार की ओर जा रही है। सूर्यदेव को जल देते रहें।

सिंह-स्‍वास्‍थ्‍य ठीक नहीं है। प्रेम ठीक नहीं है। व्‍यापार की स्थिति बहुत अच्‍छी नहीं है लेकिन चंद्रमा के लग्‍न में आने की वजह से ओजस्‍वी, तेजस्‍वी बने रहें। यह सकारात्‍मक स्थिति है। बचकर पार करें। सूर्यदेव को जल देते रहें।

कन्‍या-चिंताकारी सृष्टि का सृजन हो रहा है। खर्च की अधिकता को लेकर परेशान रहेंगे। अकारण भी परेशान  हो सकते हैं। स्‍वास्‍थ्‍य,प्रेम मध्‍यम है। व्‍यापार ठीक ठाक कहा जाएगा। शनिदेव को प्रणाम करते रहें। कुछ  ताम्रपात्र दान करें।

तुला-रुका हुआ धन वापस मिलेगा। आय के नवीन स्रोत बनेंगे। मन प्रफुल्लित रहेगा। स्‍वास्‍थ्‍य थोड़ा पहले से बेहतर हुआ है। व्‍यापार और प्रेम की स्थिति अभी बहुत अच्‍छी नहीं है। शनिदेव को प्रणाम करते रहें।

वृश्चिक-जीवनसाथी के स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार हुआ है। रोजी रोजगार की ओर अच्‍छी स्थिति होगी। स्‍वास्‍थ्‍य भी ठीक है। प्रेम में तू-तू, मैं-मैं की स्थिति या थोड़ी नकारात्‍मकता चलती रहेगी। उस पर ध्‍यान रखें। लाल वस्‍तु पास रखें। मां काली की अराधना करें।

धनु-भाग्‍यवश कोई काम बनेगा। पहले से सुधार की ओर हैं। परिस्थितियां अनुकूल होती जा रही हैं। बस मान प्रतिष्‍ठा पर कोई आंच न आने पाए इसका ध्‍यान रखें। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम ठीक ठाक है। व्‍यापार अभी मध्‍यम चल रहा है। बजरंग बाण का पाठ करें।

मकर-चोट लग सकती है। किसी परेशानी में पड़ सकते हैं। थोड़ा बचकर पार करें। स्‍वास्‍थ्‍य, व्‍यापार की स्थिति अच्‍छी नहीं है। प्रेम की स्थिति में थोड़ी बेहतरी आई है। निर्णय लेने की क्षमता भी थोड़ी अच्‍छी हुई है। मां काली की वंदना करते रहें।

कुंभ-पहले से सुधार की ओर हैं। रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। जीवनसाथी से नजदीकियां होंगी। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम मध्‍यम है। व्‍यवसायिक स्‍तर पर पहले से बेहतर स्थिति दिख रही है। गणेश जी की वंदना करते रहें।

मीन-शत्रु परेशान करने की कोशिश करेंगे लेकिन एक नहीं चल पाएगी। राह के रोड़े हट जाएंगे आप आगे बढ़ेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। बाकी प्रेम और व्‍यापार पहले से बेहतर दिखाई पड़ रहा है। पीली वस्‍तु पास रखें। अच्‍छा होगा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.