यूपी बोर्ड ने परीक्षाओं में फर्जी कक्ष निरीक्षकों पर नकेल कसने के लिए फूलप्रूप योजना तैयार की थी. जिसमें बोर्ड ने कहा था कि कक्ष निरीक्षकों के लिए एक यूनिक आईकार्ड जारी किया जाएगा. इसके लिए बोर्ड ने स्कूल संचालकों से कक्ष निरीक्षकों का ऑनलाइन ब्यौरा फीड करने के लिए 25 जनवरी तक का समय दिया था. लेकिन बोर्ड की इस योजना पर शुरू होने से पहले ही ग्रहण लग गया. गुरुवार को माध्यमिक शिक्षा परिषद के सचिव अमर नाथ वर्मा ने निर्देश जारी कर कहा है कि कक्ष निरीक्षकों के क प्यूटराईज्ड पहचान पत्र तैयार कराने की व्यवस्था अध्यापकों के शैक्षिक विवरण ऑनलाइन उपलब्ध न होने पाने की वजह से नहीं हो पा रही है. इसलिए पिछले वर्षों की तरह इस साल भी जिला विद्यालय निरीक्षक अपने स्तर से कक्ष निरीक्षकों के पहचान पत्र तैयार कर निर्गत कराएं|

online-form-52ded1ccaf691_exlst

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.