rapeउत्तर प्रदेश में बच्चियों से दुराचार की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। बदायूं के बाद सीतापुर में दुराचार के बाद हत्या से पूरा प्रदेश शर्म सार है। खुखुन्दू थाना क्षेत्र के एक गांव में एक वहशी ने हैवानियत की हदें पार करते हुए नौ साल की बच्ची से रेप किया और उसके नाजुक अंग में लकड़ी घोंपकर तड़पता छोड़ फरार हो गया। खून से लथपथ बालिका घर पहुंची। पिता उसे एक निजी अस्पताल में ले गए। वहां के डॉक्टरों ने उसे जिला अस्पताल ले जाने की सलाह दी। पिता उसी हाल में बच्ची को थाने लेकर पहुंचा। पुलिस ने अपनी गाड़ी से बालिका को जिला अस्पताल पहुंचाया। बालिका के बयान के आधार पर पुलिस ने आरोपित 30 वर्षीय युवक को गिरफ्तार कर लिया है।
खुखुन्दू थाना क्षेत्र के एक गांव की नौ साल की बच्ची मंगलवार की शाम को बकरी चराने खेत की ओर गई थी। गांव का ही एक 30 वर्षीय वहशी उसे बहला.फुसला कर एकान्त में ले गया और उसके साथ जोर.जबर्दस्ती करने लगा। दुष्कर्म करने के बाद उसने बालिका के नाजुक अंग में लकड़ी घुसेड़ दी और उसे तड़पता छोड़ कर फरार हो गया। थानेदार ऋषि कुमार ने बालिका की हालत देख कर उसे जीप में बैठा कर खुद जिला अस्पताल पहुंचाया। इलाज शुरू कराने के बाद बच्चाी के बयान के आधार पर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। घटना की सूचना पर एएसपी देवेन्द्र नाथ द्विवेदी ने अस्पताल पहुंच कर बच्चाी का बयान लिया। डॉण् अल्पना रानी ने बच्चाी का प्राथमिक उपचार कर उसे गोरखपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। इस मौके पर डिप्टी सीएमओ डॉण् एसएन सिंहए महिला थानाध्यक्ष मंजू सिंह व क्राइम ब्रांच की टीम भी अस्पताल में थीं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.