du-350_052713075032_061213083924 (1)आखिरकार यूजीसी ने डीयू स्नातक के छात्रों की परेशानी को समझ ही लिया। डीयू के छात्रों को स्नातक करने की अवधि चार वर्ष है। जिस कारण छात्रों को स्नातक के बाद आगे पढऩे में रूचि नहीं रहती। वह अपने चार साल स्नातक करने में ही गवा देते हैं। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) से चार वर्षीय स्नातक पाठ्यक्रम (एफवाईयूपी) रद्द करने को कहा है। पाठ्यक्रम का विरोध करने वाले शिक्षकों का दावा है कि कुलपति अभी भी चार वर्षीय स्नातक पाठ्यक्रम का समर्थन कर रहे हैं और सदस्यों ने आज आकादमिक परिषद की बैठक में चार वर्षीय पाठ्यक्रम से जुड़े विभिन्न विषयों पर चर्चा करने को कहा है।
उन्होंने दावा किया कि कुलपति ने सदस्यों से ईमेल की कापी साझा करने से इनकार किया, लेकिन कहा कि इन मुद्दों पर परिषद की बैठक में चर्चा हो सकती है, जो हंगामेदार तरीके से शुरू हुई। शिक्षकों के अनुसार, कुलपति ने कहा कि यूजीसी ने जल्दबाजी में तथ्यों को नजरंदाज किया होगा। उन्होंने कहा कि उन्होंने हालांकि सदस्यों से विषयों पर चर्चा करने और बैठक के एजेंडे को जारी रखने को कहा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.