टोक्यो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जापान की पांच दिन की यात्रा के बाद आज स्वदेश रवाना हो गए हैं। प्रधानमंत्री ने अपनी इस यात्रा के दौरान जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ शिखर वार्ता की जिसमें दोनों देशों के आपसी संबंधों को और मजबूत करने के लिए कई अहम निर्णय लिए गए।
जापान ने नदियों की सफाई, स्मार्ट शहरों की स्थापना, बुनियादी सुविधाओं के विकास जैसे कई क्षेत्रों में मदद के लिए अगले पांच साल में 3.5 खरब येन करीब दो लाख दस हजार करोड़ रुपए की सहायता देने का वादा किया है। मोदी ने अपनी यात्रा की शुरुआत जापान के ऐतिहासिक और प्राचीन शहर क्योटो से की थी
इस यात्रा के दौरान क्योटो की तर्ज पर भारत की धार्मिक नगरी वाराणसी को विकसित करने के करार पर भी हस्ताक्षर किए गए। मोदी ने अपनी इस यात्रा को अत्यंत सफल बताया है और विश्वास व्यक्त किया है कि भारत और जापान के मैत्रीपूर्ण संबंध इस पूरी शताब्दी पर अपना असर दिखाएंगे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.