जम्मू कश्मीर में पांच चरणों में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. काफी समय से आतंकवाद का सामने कर रहे इस राज्य में सीमा से लेकर अंदरूनी इलाकों तक सुरक्षा पुख्ता करने के लिए करीब 70 हजार सुरक्षाबलों की तैनाती की गई. यहां 16 मई यानी मतगणना के दिन तक हाई अलर्ट रहेगा.

फिलहाल जम्मू, सांबा, पुंछ और राजौरी जिले के सभी संवेदनशील स्थलों में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है. जम्मू-पुंछ संसदीय क्षेत्र में कुछ 2274 मतदान केंद्र स्थापित किए हैं. इनमें जम्मू जिले में सबसे ज्यादा 1156 केंद्र हैं, जो सभी सामान्य श्रेणी में हैं. इसके बाद राजौरी में 499 केंद्र, जिनमें 49 केंद्र अति संवेदनशील, 131 को संवेदनशील जबकि 319 को सामान्य घोषित किया गया है. पुंछ में 373 मतदान केंद्र हैं, जिनमें 23 को अति संवेदनशील और 134 को संवेदनशील में रखा गया है. सांबा जिले में 246 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. इनमें अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्थित आठ केंद्रों को अति संवेदनशील, जबकि 169 संवेदनशील है.

सुरक्षा के मद्देनजर जम्मू जिले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की 34 कंपनियों को चुनाव ड्यूटी पर लगाया गया है. राजौरी जिले में 39 कंपनियां, पुंछ जिले में सबसे ज्यादा 41 और सांबा में 28 कंपनियां तैनात की गई हैं. सीआरपीएफ के अलावा एग्जीक्यूट और आ‌र्म्ड पुलिस बल और सशस्त्र सीमा सुरक्षा बल के जवानों को भी तैनात किया गया है.kashmir map

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.