-बीए ऑनर्स इन पब्लिक एडमीनिस्ट्रेशन का नया कोर्स
-सात अप्रैल तक होगा ऑनलाइन प्रवेश 
 लखनऊ: हिंदी पत्रकारिता में पीजी डिप्लोमा के बाद अब बाबा साहब भीमराव अंबेडकर केंद्रीय विवि छात्रों को प्रबंधन में भी  पारंगत करेगा। बीए ऑनर्स इन पब्लिक एडमीनिस्ट्रेशन के इस कोर्स की प्रवेश प्रक्रिया सोमवार से शुरू होगी और सात अप्रैल तक ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है।
राजनीतिक विज्ञान विभीग के वि ाागाध्यक्ष डॉ.रिपुसूदन सिंह ने बताया कि स्नातक स्तर के इस कोर्स को लेकर विश्वविद्यालय अनुदान आयोग को प्रस्ताव भेजा गया था। प्रस्ताव स्वीकृत होने के बाद नए सत्र से इसका संचालन होगा। इंटर पास अ यर्थी प्रवेश के लिए आवेदन कर सकते हैं। नए सत्र से प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया सात फरवरी से चल रही है। अधिक जानकारी के लिए अ यर्थी विवि की वेबसाइट दे सकते हैं।
कम हो सकती है फीस
नए सत्र से सात गुना फीस बढ़ाने को लेकर बढ़ रहे विरोध के बीच अब विवि प्रशासन प्रस्ताव में कमी करने की तैयारी कर रहा है। सूत्रों के मुताबिक कुलपति प्रो.आरसी सोबती ने छात्रों के हितों को सर्वोपरि मानते हुए प्रस्ताव पर दोबारा विचार करने की बात कही है। फीस कितनी कम होगी यह फैसला तो 20 फरवरी को होने वाली एकेडमिक काउंसिल की बैठक में होगा, लेकिन अ ाी से ही फीस कम होने की चर्चा शुरू हो गई है। फीस वृद्धि के प्रस्तावों पर गौर करें तो सामान्य के साथ ही अनुसूचित जाति व जनजाति के छात्रों को दो से सात गुनी तक फीस वृद्धि करने का प्रस्ताव है। प्रवक्ता डॉ.कमल जायसवाल ने बताया कि फीस वृद्धि पर एकेडमिक काउंसिल निर्णय लेगा।
नैक ग्रेडिंग अगले महीने
गुणवत्तायुक्त शिक्षा देने में लगे बाबा साहब भीमराव अंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय अब नैक ग्रेडिंग में लग गया है। राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (नैक) टीम के मार्च के तीसरे सप्ताह में आने की सं ाावना है। चार दिवसीय दौरे के दौरान टीम को प्रभावित करने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे। विवि प्रशासन की ओर से पर्यावरण अनुकूल वातावरण को बनाने के लिए स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। पौधरोपण के साथ ही परिसर को हरा ारा बनाने के लिए गुलाब वाटिका के साथ ही उद्यान वि ााग की ओर से परिसर में ोती ाी की जा रही है।
ग्रेडिंग तय करेगा अनुदान
बाबा साहब भीमराव अंबेडकर ग्रेडिंग को लेकर कोई कमी नहीं र ाना चाहता। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की ओर से मिलने वाले अनुदान की सीमा ाी उसकी ग्रेडिंग पर र्नि ार है। सूत्रों के मुताबिक विवि में चल रही गुटबाजी को लेकर एक धड़ा उसके पक्ष में है तो दूसरा ग्रेडिंग को प्रभावित करने में लगा है। ऐसे में ग्रेडिंग को लेकर विवि प्रशासन की नींद भी उड़ी है। विवि प्रशासन सभी  को मनाने के साथ ही स्वयं कुलपति छात्रावास और कर्मचारियों के बीच जाकर आपसी सौहार्द बनाए रखने के प्रयास में लगे हैं। गुणवत्तायुक्त शिक्षा देने का मिशन तभी  कामयाब होगा जब विवि को अच्छी ग्रेडिंग मिले।
baba-saheb-bhim-rao-ambedkar-university-lucknow

 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.