मंगलवार रात गोरखपुर की नन्दानगर रेलवे क्रासिंग पर बरौनी एक्सप्रेस से कृषक एक्सप्रेस की टक्कर में बुधवार सुबह मृतकों की संख्या 13 हो गई। घायलों की संख्या भी करीब साठ तक पहुंच गई है। एनईआर के कार्यवाहक जीएम मधुरेश कुमार ने 12 मौतों की पुष्टि की है। रेल प्रशासन ने कृषक एक्सप्रेस के दोनों ड्राइवरों को सस्पेंड कर दिया है। इस हादसे की जांच सीआरएस करेंगे।

बरौनी की तीनों क्षतिग्रस्त बोगियों में फंसे यात्रियों को निकालने का काम बुधवार सुबह साढ़े सात बजे खत्म हुआ। घायलों को एयरफोर्स, मेडिकल कालेज, जिला अस्पताल और रेलवे हास्पिटल में भर्ती कराया गया है। राहत और बचाव कार्य पूरी रात चलता रहा। क्षतिग्रस्त रेल लाइन को ठीक करने का कार्य युद्धस्तर पर जारी रखा गया है। ट्रैक पर पलटी तीनों बोगियों को सुबह सात बजे तक हटा दिया गया था। उम्मीद है दोपहर बाद ट्रैक संचलन लायक बना दिया जाएगा।

पूर्व मध्य रेलवे के जीएम मधुरेश कुमार, जो एनईआर के भी कार्यवाहक जीएम हैं, सुबह सवा सात बजे घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने हादसे में मारे गए यात्रियों की संख्या बारह बताई। पत्रकारों से बातचीत में कहा कि घायलों एवं मृतक आश्रितों को मुआवजा राशि बांटी जा रही है। प्रथम दृष्टया घटना की वजह कृषक एक्सप्रेस के लोको पायलट (ड्राइवर) द्वारा रेड सिग्नल को नजर अंदाज कर आगे बढ़ना प्रतीत हो रहा है। लिहाजा लोको पायलट रामबहादुर और असिस्टेण्ट लोको पायलट सत्यजीत को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। हादसे की जांच कमिश्नर आॠफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) करेंगे।

रेल प्रशासन ने दावा किया कि सुबह दस बजे तक अप और अपराह्न दो बजे तक डाउन दिशा के ट्रैक को आवागमन के लिए खोल दिया जाएगा। दोनों ट्रैक बाधित होने से करीब तीन दर्जन ट्रेनों का आवागमन बाधित हुआ है। ट्रेनें परिवर्तित मार्ग से चलाई जा रही हैं।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में बरौनी एक्सप्रेस के पटरी से उतरे डिब्बों को बगल की पटरी से गुजर रही कृषक एक्सप्रेस के इंजन ने टक्कर मार दी। पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी आलोक सिंह ने बताया कि कल रात 10 बजकर 47 मिनट पर गोरखपुर तथा कैंट रेलवे स्टेशनों के बीच नन्दानगर रेलवे क्रॉसिंग के पास लखनऊ से बरौनी जा रही एक्सप्रेस के पीछे के तीन डिब्बे दुर्घटनावश पटरी से उतर गये थे। बरौनी एक्सप्रेस के इन डिब्बों को बगल की पटरी से गुजर रही कृषक एक्सप्रेस के इंजन ने टक्कर मार दी। उन्होंने बताया कि टक्कर से बरौनी एक्सप्रेस के डिब्बे बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गये।

सिंह ने बताया कि रैपिड एक्शन फोर्स, गोरखा रेजीमेंट तथा रेलवे पुलिस ने मौके पर पहुंच कर, बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुए डिब्बों से घायल यात्रियों को निकालने का काम शुरू किया। उन्होंने बताया कि दुर्घटना की जानकारी देने और पूछताछ के लिए हेल्पलाइन नम्बर शुरू किये गये हैं। जो गोरखपुर के लिए 05513303365 और 09794846980, लखनऊ के लिए 05222233042, छपरा के लिए 09006693233 तथा बनारस के लिए 09919041978 हैं।011014454159photo4

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.