बिहार के 10 जिलों के 77 प्रखंडों की 577 पंचायतों में दस लाख 61 हजार से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हो गए हैं। वहीं अब-तक आठ लोगों की बाढ़ से मौत भी हो चुकी है। राज्य सरकार की ओर से प्रभावितों के लिए राहत और बचाव कार्य निरंतर चलाए जा रहे हैं। शनिवार से हेलीकॉप्टर के माध्यम से भी बाढ़ पीड़ितों को फूड पैकेट्स पहुंचाए गए। दरभंगा और मोतिहारी जिले के कई गांवों में जहां पर आवागमन में दिक्कत हो रहा है, वहां पर हेलीकॉप्टर से की मदद से फैड पैक्टस दिए गए।

आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव रामचंद्रुडु ने कहा कि एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम सभी प्रभावित इलाकों में तैनात है और लोगों को सुरक्षित जगह पर पहुंचा रही है। राज्य के विभिन्न जिलों में 422 सामुदायिक किचेन चलाए जा रहे हैं, जहां पर एक लाख 15 हजार बाढ़ पीड़ित प्रतिदिन भोजन कर रहे हैं।

bihar flood  floods in bihar  flood risk in bihar  nitish kumar  bihar government  rain in nepal  me

विभाग से मिली जानाकारी के अनुसार दरभंगा में 271, पूर्वी चंपारण में 29, पश्चिम चंपारण में सात, मुजफ्फरपुर में 40, गोपालगंज में 46, सीतामढ़ी में 19, शिवहर में चार, सुपौल में तीन और खगड़िया में तीन सामुदायिक किचेन चलाया जा रहा है। इसके अलावा विभिन्न जिलों में 28 राहत शिविर भी लगाए गए हैं, जिनमें 16 हजार बाढ़ पीड़ितों को रखा जा रहा है।

उत्तर बिहार में बाढ़ ने तबाही मचा रखी है। मुजफ्फरपुर में गंडक पारू, साहेबगंज व सरैया में तांडव मचा रखा है तो औराई, कटरा व गायघाट में बागमती ने स्थिति बदहाल कर दी है। बूढ़ी गंडक का पानी फैलने से मुजफ्फरपुर के निचले इलाके के दो दर्जन मोहल्लों जलमग्न हैं।
bihar flood  floods in bihar  flood risk in bihar  nitish kumar  bihar government  rain in nepal  me
बाढ़ पीड़ित एनएच पर शरण ले रहे हैं। वहीं मिथिलांचल में स्थिति नहीं संभल रही है। दरभंगा-जयनगर एनएच 527 बी पर शनिवार को बाढ़ का पानी चढ़ गया। लाधा में जमींदारी बांध टूटने से लोगों की मुसीबत और बढ़ गई है। दरभंगा में एयर ड्रॉपिंग से राहत अभियान चलाया गया।
bihar flood  floods in bihar  flood risk in bihar  nitish kumar  bihar government  rain in nepal  me
लॉकडाउन और बाढ़ से उत्तर बिहार के कई जिलों में आवागमन बिल्कुल ठप हो गया है। लोग चाहकर भी एक से दूसरे जिले नहीं जा पा रहे हैं। लॉकडाउन के कारण बसों का परिचालन 16 जुलाई से ही ठप है। अब बाढ़ की तबाही के कारण उत्तर बिहार में चल रही आधा दर्जन विशेष ट्रेनों का परिचालन भी बाधित हो गया है।
bihar flood  floods in bihar  flood risk in bihar  nitish kumar  bihar government  rain in nepal  me
इससे उत्तर बिहार के अधिकांश जिलों के लोगों का आवागमन ठप हो गया है। अब निजी वाहन ही लोगों का सहारा है। वहीं, निजी वाहन भी लॉकडाउन में नहीं के बराबर चल रहे हैं। दो रेल लाइन जयनगर से समस्तीपुर और समस्तीपुर से वाया मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज रूट पर ट्रेनों का परिचालन ठप है। इसी दो लाइनों पर उत्तर बिहार के अधिकांश जिले हैं।
bihar flood  floods in bihar  flood risk in bihar  nitish kumar  bihar government  rain in nepal  me

 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.