lu– बीबीएयू ने स ाी इनोवेटिव कोर्सेस की जि मेदारी अपने वि ाागाध्यक्षों को सौंपी
बाबा साहेब ाीमराव अ बेडकर सेंट्रल यूनिवर्सिटी (बीबीएयू) ने अब अपने यहां चलने वाले स ाी इनोवेटिव कोर्सेस को अब अपने डिपार्टमेंट से संचालित करने की तैयारी कर रहा है. अ ाी तक बीबीएयू की ओर से यह स ाी इनोवेटिव कोर्सेस का संचालन यूनिवर्सिटी की ओर से नियुक्ति किए गए स्पेशल कोऑडिनेटर के माध्यम से चलाया जा रहा था. अब यूनिवर्सिटी ने इन स ाी कोर्सेस के संचालन की जि मेदारी यूनिवर्सिटी ने अपने स ाी वि ाागों को सौंपने की तैयारी पूरी कर ली है. इन कोर्सेस के संचालन और इन पर ार्च होने वाले बजट के लिए फीस निर्धारण की तैयारी चल रही है. जिस पर अंतिम निर्णय 20 फरवरी को होने वाले एकेडमिक काउंसिल में लिया जएगा.
22 इनोवेटिव कोर्स रेगुलर कोर्स में होंगे शामिल
बीबीएयू की ओर से पिछले साल 43 इनोवेटिव कोर्सेस की शुरुआत की गई थी. जिसमें से यूनिवर्सिटी के 22 कोर्सेस में स्टूडेंट्स की ओर से काफी दिलचस्पी दि ााई गई थी. यूनिवर्सिटी ने स्टूडेंट्स की इस दिलचस्पी को दे ाने के बाद इन कोर्सेस को अपने स ाी वि ाागों के अनुसार उन्हें आवंटित करने जा रहा है. जो अब यूनिवर्सिटी के बाकि रेगुलर कोर्सेस की तरह से ही संचालित किए जाएंगे. इन कोर्सेस को संचालित करने की पूरी जि मेदारी उनके वि ाागाध्यक्षों की होगी.
कोर्स के हिसाब से तय होगी फीस
यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता प्रो. कमल जयसवाल ने बताया कि वीसी डॉ. आरसी सोबती की ओर से कई इनोवेटिव कोर्सेस की शुरुआत की गई थी. जिनकी संचालन की जि मेदारी यूनिवर्सिटी की ओर से नियुक्ति किए गए कोऑडिनेटर सं ाालते थे. उन्होंने बताया कि इन कोर्सेस के संचालन के बजट की जि मेदारी यूनिवर्सिटी को ाुद करना पड़ता है. इस लिए फीस में बढ़ोत्तरी करना कोर्स के संचालन के लिए बेहतर है. उन्होंने बताया कि हमारे यहा से संचालित होने वाले स ाी कोर्सेस की की जि मेदारी अब पूरी तरह से वि ाागाध्यक्षों को सौंप दी गई है.

– 16 फरवरी को यूनिवर्सिटी में आयोजित बैठक में होगा निर्णय

लखनऊ यूनिवर्सिटी की ग्रेजुएशन कोर्सेस के लिए एनुअल एग्जाम आगामी दस मार्च से शुरू हो सकते है. एग्जाम आयोजित कराने के लिए यूनिवर्सिटी की ओर से एक समिति का गठन कर दिया गया है. इसके लिए समिति की बैठक आगामी 16 फरवरी को आयोजित की जाएगी. कमेटी की बैठक में एनुअल एग्जाम के लिए विस्तृत कार्यक्रम ाी जारी होने की स ाावना है. ल ानऊ यूनिवर्सिटी की ओर से इस बार तीन पालियों आयोजित करने का निर्णय लिया है.
वीसी ने दी सहमति
एलयू ने यूजी कोर्सेस के एग्जाम मार्च के सेकेंड वीक में आयोजित करने का प्रस्ताव तैयार किया था. इस प्रस्ताव में दस मार्च से एग्जाम शुरू कराने की बात कहीं गई है. इस प्रस्ताव पर वीसी ने अपनी सहमति प्रदान कर दिया है. यूनिवर्सिटी के एग्जाम कंट्रोलर की ओर से एग्जाम के डेट शीट तैयार करने का काम शुरू ाी कर दिया है. एग्जाम के डेट को फाइनल करने के लिए आगामी 16 फरवरी को यूनिवर्सिटी में स ाी प्राचार्यों की बैठक बुलाई गई है.
ऑनलाइन जारी होंगे एडमिट कार्ड
परीक्षा नियंत्रक एसके शुक्ला ने बताया कि इस बार विभाग यूनिवर्सिटी के सभी डेढ़ लाख स्टूडेंट्स के एडमिट कार्ड ऑनलाइन जारी किए जाएंगे. स्टूडेंट्स यूनिवर्सिटी की वेबसाइट से ऑनलाइन एडमिट कार्ड प्रिंट कर सकेंगे. उन्होंने बताया कि बुधवार को 94 हजार छात्रों ने ऑनलाइन फॉर्म सबमिट कर दिए गए है.

नहीं दर्ज हुआ बयान
एमिटी यूनिवर्सिटी में बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर बीऑर्क के फस्र्ट इयर के छात्रा और उसके साथियों के साथ मारपीट के मामले में जांच के लिए गठित टीम को बुधवार को छात्रों ने अपना बयान नहीं दर्ज कराया. यूनिवर्सिटी की ओर से इस मामले में जांच के लिए मंडे को एक टीम का गठन किया था. जिसने बुधवार को इस मामले की जांच के लिए बीऑर्क और मामले में आरोपी बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी बीटेक के स्टूडेंट्स को अपना बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया था. जिसके बाद ाी इस मामले में शामिल करीब तीन स्टूडेंट्स जांच टीम के सामने प्रस्तुत नहीं हुए है. यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता आशुतोष चौबे ने बताया कि इस मामले में जांच पूरा करने के लिए स्टूडेंट्स को शुक्रवार को दोबारा से जांच कमेटी के सामने प्रस्तुत होने के लिए बोला गया है. इसके बाद ही इस मामले में आगे की कार्रवाई की जांएगी.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.