वाइस एडमिरल आर हरि कुमार (Vice Admiral R Hari Kumar) देश के अगले नौसेना प्रमुख (next navy chief) के रूप में मंगलवार को पदभार ग्रहण करेंगे, वो 30 नवंबर को सेवानिवृत्त होने जा रहे एडमिरल करमबीर सिंह से दिल्ली में अगले नौसेना प्रमुख का कार्यभार संभालेंगे. वाइस एडमिरल आर हरि कुमार ने एकीकृत रक्षा स्टाफ मुख्यालय के हिस्से के रूप में थिएटर कमांड संरचनाओं के बुनियादी निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.
12 अप्रैल 1962 को जन्मे वाइस एडमिरल आर हरि कुमार को जनवरी 1983 में भारतीय नौसेना की कार्यकारी शाखा में कमीशन दिया गया था. हरि कुमार ने अलग-अलग कमांड, स्टाफ और इंस्ट्रक्शनल अपॉइंटमेंट्स में अपनी सर्विस दी है. वाइस एडमिरल आर. हरि कुमार के ‘सी कमांड’ (Sea Command) में आईएनएस निशंक, मिसाइल कार्वेट, आईएनएस कोरा और गाइडेड मिसाइल डिस्ट्रॉयर आईएनएस रणवीर शामिल हैं.

वाइस एडमिरल आर हरि कुमार ने आईएनएस विराट की भी कमान संभाली
उन्होंने भारतीय नौसेना के विमानवाहक पोत आईएनएस विराट (INS Viraat) की कमान भी संभाली है. कुमार ने इस साल फरवरी में मुंबई स्थित डब्ल्यूएनसी, जिसे नौसेना की दाहिनी-भुजा कहा जाता है, की बागडोर संभाली थी. वाइस एडमिरल आर हरि कुमार ने नेवल वॉर कॉलेज, यूएस, आर्मी वॉर कॉलेज, महू और रॉयल कॉलेज ऑफ डिफेंस स्टडीज, यूके से कोर्स किया है.
वहीं सोमवार को वाइस एडमिरल आर हरि कुमार ने मुंबई में आयोजित एक समारोह में पश्चिमी नौसेना कमान का प्रभार वाइस एडमिरल अजेंद्र बहादुर सिंह को सौंपा. वाइस एडमिरल अजेंद्र बहादुर सिंह को नौसेना की दो संचालन कमान का नेतृत्व करने का गौरव प्राप्त है. पश्चिमी नौसेना कमान के कमांडिंग-इन-चीफ के रूप में नियुक्ति से पहले वो पूर्वी नौसेना कमान के प्रमुख थे.
इससे पहले इसी साल फरवरी महीन में वाइस एडमिरल आर हरि कुमार ने पश्चिमी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ का पदभार संभाला था. उन्होंने वाइस एडमिरल अजीत कुमार की जगह ली, जो जनवरी 2019 से इस अहम कमान की जिम्मेदारी संभाल रहे थे. वाइस एडमिरल अजीत कुमार नौसेना में 40 साल के उत्कृष्ट करियर के बाद सेवानिवृत हो गए.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.