azam-khan18 सितंबर को उरी हमले में 18 भारतीय जवान मारे गये थे, जिसके जवाब में सर्जिकल स्ट्राइक की। भारतीय सैनिक ने इस सर्जिकल स्ट्राइक के करने से 38 आंतकी को मार गिराया। उसके बाद भारत और पाकिस्तान के तनावपूर्ण हालात पर उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री आजम खां ने रविवार को खुलकर अपनी राय दी। उन्होंने कहा कि जंग किसी मसले का हल नहीं होता है। पाकिस्तान छोटा भाई है, उससे बातचीत कर हल निकाला जाना चाहिए। आजम खां ने पीएम नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा।

यूपी के कैबिनेट मंत्री आजम खां ने गांधी जी की जयंती पर ध्वजारोहण किया। इसके बाद जिला अस्पताल में विकास कार्यों का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि दो विश्वयुद्ध हुए लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। अगर तीसरा विश्वयुद्ध हो भी तो इस मसले का हल नहीं होगा। उन्होने कहा कि भारत और पाकिस्तान भाई-भाई हैं। आखिर यह सोचना चाहिए कि भाई-भाई आपस में क्यों नाराज है। इस पर वार्ता होना चाहिए और भारत, पाकिस्तान एवं बांग्लादेश के रिश्ते बहाल होना चाहिए।

आजम खां ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की ओर इशारा करते हुए कहा कि उन्होंने मसले के हल को लेकर मसौदा तैयार किया था। जो आज भी प्रधानमंत्री कार्यालय में है। उस फाइल को निकाला जाए और अमल किया जाए। गुजरात दंगे के बाद उन्होंने विदेश दौरा भी रद कर दिया था। और अटल जी ने कहा कि मैं विदेश में जाकर क्या मुंह दिखाउंगा। गुजरात सीएम को राज्य धर्म निभाने को कहा था।

बादशाह मुस्लिमों से रिश्ता जोड़ने की बात करते हैं, लेकिन उन्हें सुविधाएं देना होंगी। उन्होने कहा दलितों की बराबर आरक्षण दें तो मैं भी भाजपा के पीछे हो जाउंगा। और बोले, गंगा कभी गंदी नहीं हो सकती, यह मेरा ईमान है। गंगा मुसलमानों के लिए गंदी नहीं है। उन्होंने मुख्यमंत्री की तारीफ करते हुए कहा कि साढ़े चार साल के विकास को लेकर कोई उनसे बहस कर ले। यदि देश में सबसे बेहतर विकास न हो तो अगली सरकार के हकदार नहीं होंगे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.