polytechnic-collegeलखनऊ। पॉलीटेक्निक की छात्रा ने अपनी परीक्षा परिणाम संशोधित कराने के लिए बहुत चक्कर लगाई। परीक्षा परिणाम हासिल करने के लिए छात्रा जब संस्थान और प्राविधिक शिक्षा परिषद से परेशान हो कर थक गई तब उसने प्रधानमंत्री कार्यालय पहुंच अपनी पीड़ा बताई। प्राविधिक शिक्षा विभाग की व्यवस्था से आहत छात्रा ने मौखिक शिकायत कर संशोधित परीक्षा परिणाम जारी कराए जाने की मांग की है। पीएमओ ने मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रदेश सरकार को मामले में उचित कार्रवाई करने को कहा।

क्या है मामला
छात्रा मुरादाबाद के महिला पॉलीटेक्निक में 2014 में दाखिला ली थी। छात्रा का नाम प्रियंका सिंह है और यहां वर्ष 2014 में अंतिम वर्ष की छात्रा का एक विषय में बैक था। प्रियंका ने वर्ष 2015 में बैक पेपर भी दिया। लेकिन कॉलेज व प्राविधिक शिक्षा परिषद स्तर पर लापरवाही के कारण उसका परीक्षा परिणाम जारी नहीं किया गया। प्रियंका ने फाइनल रिजल्ट लेने के लिए कई बार संस्था से लेकर परिषद की दौड़ लगाई, लेकिन कहीं कोई सुनवाई नहीं हुई।

इसके बाद प्रियंका ने सीधे प्रधानमंत्री से मिलकर मामले की शिकायत करने की ठानी। पीएमओ पहुंच प्रियंका ने अपनी आप बीती बताई। मामले को गंभीरता से लेते हुए पीएमओ ने मुख्य सचिव,उप्र को चिट्ठी लिखकर आवश्यक कार्रवाई करने को कहा। चिट्ठी जब प्राविधिक शिक्षा परिषद पहुंची तो अधिकारियों के होश उड़ गए। विभाग ने आनन-फानन में छात्रा का परीक्षा परिणाम संशोधित कर जारी किया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.