pm-sharifs-message-on-youm-e-takbeer

न्यूयॉर्क। उड़ी आतंकी हमले पर अनर्गल बयानबाजी कर रहे पाकिस्तानी पीएम नवाज शरीफ पर भारत ने जवाबी हमला बोला है। भारत ने दो टूक कहा है कि अब उनके यह कुतर्क न्यूयॉर्क और लंदन में काम नहीं आएंगे।
विदेश राज्यमंत्री एम जे अकबर, लंदन में शरीफ की उन टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि उरी हमला कश्मीर घाटी में तनावपूर्ण हालात पर लोगों की प्रतिक्रिया का परिणाम हो सकता है। यहां संरा महासभा के 71वें सत्र से इतर द्विपक्षीय और बहुपक्षीय बैठकों में भाग ले रहे अकबर ने कहा कि ये कुतर्क जानबूझ कर किए गए हैं और ये सरासर गलत हैं। और हम थोड़े बहुत भरोसे के साथ कह सकते हैं कि ये इस्लामाबाद में भी काम नहीं आएंगे। अकबर ने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण और शक्तिशाली देशों ने भारत के तर्कों और उचित रुख को, समस्याओं से एकजुट होकर निबटने के हमारे प्रयासों को, गरीबी को दूर करने और विकास पर ध्यान देने को लक्ष्य बनाने की हमारी मांग और प्रयासों को बहुत अच्छे से ग्रहण किया है।
विदेश राज्यमंत्री ने कहा कि हमारा का प्रमुख लक्ष्य है कि तरक्की का सबसे बड़ा लाभ उन लोगों तक पहुंचना चाहिए जिन्हें इसकी सबसे ज्यादा जरूरत है और इस लक्ष्य को अन्य देशों की ओर से मजबूत समर्थन हासिल हुआ है। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि मानवाधिकार का सबसे बड़ा दुश्मन आतंकवाद है। उन्होंने कहा कि आतंकवाद विकास का शत्रु है और इसे खत्म किया जाना चाहिए।
गौरतलब है कि न्यूयॉर्क में संरा महासभा सत्र में शामिल होने के बाद लौटने के दौरान शुक्रवार को लंदन में रुके शरीफ ने कहा था कि उरी हमला कश्मीर में अत्याचारों का परिणाम हो सकता है। बीते दो महीनों में मारे गए और आंखों की रोशनी खो चुके लोगों के करीबी लोग और संबंधी दुखी हैं और गुस्से में हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.