04gate23नई दिल्ली। देश के अमीर शहरों में भारत की राजधानी दिल्ली दूसरे स्थान पर है। जबकि आर्थिक राजधानी मुंबई पहले स्थान पर बरकरार है। दिल्ली के पास कुल 450 अरब डॉलर की संपत्ति है। और मुंबई के पास 820 अरब डॉलर संपत्ति है। वैसे मुम्बई शहर को कहा भी जाता है कि मुम्बई पैसे वालों की है। न्यू वर्ल्ड वेल्थ की रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है कि देश के अमीर शहरों की फेहरिस्त में दिल्ली दूसरे स्थान पर है।

भारत में कुल 5600 अरब डॉलर

रिपोर्ट के मुताबिक इसी साल जून 2016 तक देश की कुल संपत्ति 5600 अरब डॉलर थी। इसके मुताबिक, देश में 264000 करोड़पति हैं और 95 अरबपति, अकेले मुंबई में 45000 करोड़पति हैं जबकि 28 अरबपति। दिल्ली के पास कुल 450 अरब डॉलर की संपत्ति है। रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि अगले एक दशक के दौरान देश को स्थानीय वित्तीय सेवा, आईटी, रियल एस्टेट, स्वास्थ्य और मीडिया क्षेत्र में मजबूत वृद्धि से लाभ हो सकता है।

वहीं मौद्रिक नीति में सुधार और अर्थव्यवस्था को खोलने के बाद भारत वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूची में 16 स्थान उछलकर 39वें स्थान पर आ गया है। विश्व आर्थिक मंच डब्ल्यूईएफ ने बुधवार को वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूची 2016-17 जारी की।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.