rss-trousers-full-pantsगुड़गांव। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) की 91वें साल की परंपरा मंगलवार को नए अंदाज में दिखाई दी। संघ स्वयं सेवक पहली बार खाकी हाफ पैंट के बजाए भूरे रंग की पतलून में नजर आए। आरएसएस के स्थापना दिवस विजयादशमी पर पथ संचलन द्रोणाचार्य राजकीय महाविद्यालय से शुरू हुआ। हालांकि, पतलून की कमी के कारण इस बार मंगलवार को सिर्फ गुड़गांव महानगर में ही पथ संचालन हुआ।

मंगलवार को हुए कार्यक्रम में सबसे पहले शस्त्र पूजा की गई उसके पश्चात बौद्धिक के अंतर्गत वरिष्ठ आरएसएस पदाधिकारियों ने स्वयं सेवकों को संबोधित किया। प्रांत कारवाह देव प्रसाद भारद्वाज,महानगर कार्यवाह विजय कुमार, भाग संघ चालक वेद मंगला, विभाग प्रचारक शिव कुमार भी उपस्थित रहे। उसके पश्चात 1000 स्वयं सेवक नए और सम्पूर्ण गणवेश में हाथों में लाठियां लिए पथ संचलन को तत्पर दिखे।
उत्साह से भरे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता अनुशासित कदमों के साथ सड़कों पर कदम ताल करते हुए उतरे। आगे आगे खुली जीप में वरिष्ठ कार्यकर्ता सवार थे और देश भक्ति नारे लगा रहे थे। पुलिस की कड़ी सुरक्षा के बीच यह पथ संचलन द्रोणाचार्य राजकीय महाविद्यालय पुराना गुड़गांव से शुरू हुआ। कॉलेज के पुराने रेलवे रोड की ओर जाने वाले गेट से पथ संचलन में शामिल आरएसएस कार्यकर्ता निकले। कई स्थानों पर फूल मालाओं से इनका स्वागत भी किया गया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.