तमिलनाडु में जलीकट्टू को लेकर बड़े स्तर पर हो रहे विरोध प्रदर्शन को देखते हुए अब केंद्र सरकार भी इसके रास्ते के अवरोध हटाने में लग गई है। नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडु के प्रति केंद्र सरकार के प्रतिबद्ध होने का आश्वासन देते हुए कहा कि यहां के लोगों की सांस्कृतिक आकांक्षाओं को पूरा करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

मोदी ने ट्वीट कर कहा, “हम तमिलनाडु की समृद्ध संस्कृति को लेकर गौरवान्वित हैं। तमिलनाडु की सांस्कृतिक इच्छाओं को लेकर प्रयास पूरे किए जा रहे हैं।” तमिल लोगों की सांस्कृतिक आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि केंद्र सरकार पूरी तरह से तमिलनाडु की प्रगति के लिए प्रतिबद्ध है। केंद्र सरकार ने इस बारे में तमिलनाडु सरकार के अध्यादेश को मंजूरी दे दी है।

उन्होंने कहा, “केंद्र सरकार तमिलनाडु के लोगों के विकास को लेकर पूरी तरह से प्रतिबद्ध है और हमेशा यह सुनिश्चित करेगी कि देश विकास की नई ऊंचाईयों को छुए।”

राष्ट्रपति के पास अंतिम मसौदा
तमिलनाडु सरकार ने पशु क्रूरता रोकथाम अधिनियम के कुछ प्रावधानों में संशोधन कर इसका मसौदा सुबह केंद्र सरकार के पास भेजा था। गृह मंत्रालय ने इस पर पर्यावरण मंत्रालय और कानून मंत्रालय की राय मांगी। दोनों मंत्रालयों ने इस पर अपनी सहमति दी। इसके बाद सरकार ने अंतिम मुहर के लिए इसे राष्ट्रपति के पास भेजा गया है। राष्ट्रपति आज दिल्ली लौटेंगे उसके बाद इस पर फैसला लेंगे।

तमिलनाडु में जलीकट्टू के समर्थन में प्रदर्शन की शुरुआत सोमवार को हुई थी, जिसके बाद कुछ प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया था। इसके बाद विरोध-प्रदर्शन और भड़क गया। पूरे राज्य में कामकाज लगभग ठप हो गया है। लोग जलीकट्टू पर प्रतिबंध को तमिलनाडु की संस्कृति का अपमान बता रहे हैं। इसके लिए पशु अधिकार संगठन पीपुल फॉर एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स (पेटा) भी उनके निशाने पर है।

1 टिप्पणी

  1. Escreva nome da população que quer sepultar em seu coração,
    reze um Pai Nosso e três Ave Maria por ela,
    depois solte pedaço de madeira na chuva. , faça do paixão meu mestre, porque eu siga; faça dele meu direcção, porém não meu Sou
    encarregado pela Alphalife, nos últimos tempos me dediquei a ajudar os homens a ocupar as mulheres e também melhorarem seus relacionamentos. http://factinface.com/article/profile.php?a=763

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.