फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत केस में सियासी बयानबाजी लगातार जारी है। दिल्ली स्थित एम्स की रिपोर्ट में इस बात की पु्ष्टि हुई है कि यह एक आत्महत्या थी। किसी भी तरह की हत्या की संभावना से एम्स ने इनकार किया है। इसपर शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा, ‘यह एम्स फॉरेंसिक मेडिकल बोर्ड के प्रमुख डॉ. सुधीर गुप्ता की रिपोर्ट है। उनका शिवसेना से कोई राजनीतिक संबंध या कोई संबंध नहीं है।’ आगे उन्होंने कहा, ‘शुरुआत से ही इस मामले में महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है। अगर अब सीबीआई जांच पर भी भरोसा नहीं किया जा रहा है, तो हम अवाक हैं।’

सुशांत सिंह राजपूत की मौत हत्या थी या आत्महत्या, पिछले कई महीनों से यह सवाल अबूझ पहेली बनी हुई है। मगर अब सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में एम्स डॉक्टरों के पैनल ने हत्या-आत्महत्या की थ्योरी को सुलझा दिया है। एम्स पैनल ने इस बात का खुलासा किया है कि सुशांत सिंह की मौत आत्महत्या थी, हत्या नहीं। एम्स पैनल का नेतृत्व करने वाले डॉ सुधीर गुप्ता ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत की हत्या नहीं की गई थी, बल्कि यह आत्महत्या का केस है। सुशांत सिंह राजपूत के पोस्टमार्टम रिपोर्ट की जांच करने के बाद एम्स की टीम इस निषकर्ष पर पहुंची है।

सुशांत के परिवार के वकील ने कहा- नई फारेंसिक टीम गठन करने का सीबीआई से करेंगे अनुरोध

एक्टर सुशांत सिंह की मौत पर एम्स की रिपोर्ट ने नया बवाल खड़ा कर दिया है। एक दिन पहले एम्स की तरफ से दी गई रिपोर्ट में यह कहा गया कि बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने खुदकुशी की है। इसके बाद सुशांत के परिवार के वकील विकास सिंह ने कहा कि वे सीबीआई डायरेक्टर से अनुरोध करेंगे कि वे नई फॉरेंसिक टीम का गठन करें। वकील ने ट्वीट करते हुए कहा, “एम्स की रिपोर्ट से काफी पीड़ा पहुंची। सीबीआई डायरेक्टर से नई फॉरेंसिक टीम गठिन करने का अनुरोध करने जा रहा हूं। ऐसे एम्स की टीम बिना बॉडी के नतीजे वाली रिपोर्ट दे देंगे, जबकि कूपर हॉस्पीटल में किए गए पोस्टमॉर्टम में मौत का समय तक नहीं दिया गया है।”

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.