नई दिल्ली- दुनिया के करीब 70 ​देश इस समय घातक कोरोना वायरस से प्रभावित है। विकसित देशों के मुकाबले इसका खतरा विकासशील देशों को अधिक है। इसे देखते हुए अब वर्ल्ड बैंक कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में आगे आया है। विश्व बैंक ने जरूरतमंद देशों के लिए 12 अरब डॉलर के आर्थिक पैकेज की घोषणा की है। वर्ल्ड बैंक के प्रमुख डेविड मालपास ने कहा, यह पहल गरीब देशों को ध्यान में रखकर की गई ​है जिससे वे तेजी से इस बीमारी से मुकाबला कर सकें।

डेविड मालपास ने कहा कि हमें यह समझना होगा कि विकसित देशों के मुकाबले गरीब देशों के ऊपर कोरोना वायरस का खतरा है। इन देशों के पास कोरोना वायरस से निपटने के लिए जरूरी उपकरण नहीं हैं। उन्होंने बताया कि इस फंड का कुछ हिस्सा गरीब देशों को दिया जाएगा। वहीं, फंड का इस्तेमाल मेडिकल उपकरण को खरीदने और स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने में किया जाएगा। बैंक ने बयान जारी कर बताया कि इस पहल के तहत जरूरतमंद देशों को नीतिगत सुझाव भी दिए जाएंगे।

वर्ल्ड बैंक चीफ ने कहा कि 12 अरब डॉलर के पैकेज में से 8 अरब डॉलर उन देशों को भेजा जाएगा जिन्होंने मदद की अपील की थी। वर्ल्ड बैंक से दुनियाभर के कई देशों ने मदद के लिए संपर्क किया है, लेकिन अब तक यह जानकारी नहीं मिल पाई है इनमें से सबसे पहले मदद किसे मिलेगी।

रोनावायरस दुनिया में बढ़ता जा रहा है। तीन और देशों में इसके नए केस सामने आए हैं। इसके साथ ही कोरोनावायरस की जद में दुनिया के 70 देश आ गए हैं। 3,113 लोगों की मौत हो चुकी है। 90,900 केस सामने आए हैं। सबसे ज्यादा 80,150 केस चीन में दर्ज हुए हैं। यहां अब तक 2,944 लोगों की जान गई है। दक्षिण कोरिया में 374 नए केस सामने आए हैं। इसके साथ ही यहां कोरोनावायरस से पीड़ित लोगों की संख्या 5186 के पार पहुंच गई है। जबकि 29 लोगों की मौत हुई है। अमेरिका में 100 मामले सामने आए हैं, जबकि 6 लोगों की जान गई है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.