दिल्ली – रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह चार नंवबर को राजदूतों की एक राउंड टेबल बैठक को संबोधित करेंगे। इस बैठक में 80 देश शामिल होंगे जिसमें 49 राजदूत और उच्चायुक्त शामिल होंगे। बता दें कि पांच से आठ नवंबर के बीच डिफेंस एक्सपो-2020 का आयोजन हो रहा है। रक्षा मंत्री सिंह ने कहा, ‘‘मैं 1-2 नवम्बर को शंघाई सहयोग संगठन में शासनाध्यक्षों (सीएचजी) की परिषद में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए कल उज्बेकिस्तान के ताशकंद की यात्रा पर जाऊंगा।’’ राजनाथ सिंह ने कई ट्वीट में कहा कि एससीओ की रूपरेखा के तहत सफल सहयोग क्षेत्र और विश्व के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

रक्षा मंत्री ने कहा, ‘‘मैं एससीओ के सदस्यों के साथ भारत के संबंध को आगे बढ़ाने के लिए तत्पर हूं, जो व्यापक आर्थिक सहयोग, आतंकवाद रोधी सहयोग और कई अन्य चीजों में हमारी मदद करेगा।’’ मंत्रालय ने कहा कि ताशकंद में होने वाली बैठक में भाग लेने वाले नेताओं के एससीओ क्षेत्र में बहुपक्षीय आर्थिक सहयोग और आर्थिक विकास को लेकर होने वाली चर्चाओं पर ध्यान केन्द्रित करने की उम्मीद है। सिंह एससीओ बैठक के इतर द्विपक्षीय बैठकों में भी भाग लेंगे। एससीओ का उद्देश्य क्षेत्र में शांति, स्थिरता और सुरक्षा को बनाये रखना है। भारत और पाकिस्तान 2017 में एससीओ के पूर्ण सदस्य बने थे।

रिपोर्ट – न्यूज नेटवर्क 24

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.