पुदीने के एंटी बैक्टीरियल गुण स्किन पर मुंहासे पैदा करने वाली बैक्टीरिया के खिलाफ काम करते हैं. इसके अलावा, उसमें चेहरे के दाग-धब्बों को भी साफ करने की क्षमता होती है. पुदीना न सिर्फ सेहत को फायदा पहुंचाता है बल्कि बाहरी खूबसूरती में भी इजाफा करता है. शरीर के अंदरूनी अंगों के लिए पुदीना मुफीद माना जाता है. उसकी सुगंध लोगों को आकर्षित करने के लिए काफी होती है. पुदीने के फायदे तो बहुत हैं, लेकिन हैरतअंगेज तरीके से पौधा कैसे आपके पूरे शरीर के लिए बेहतर है, ये जानना जरूरी है.
बालों को गिरने से रोकता है
पुदीने के पत्तों में एंटी ऑक्सीडेंट प्रयाप्त मात्रा में पाए जाते हैं. ये बालों के विकास के लिए बेहतरीन स्रोत है. पुदीने के पत्ते बालों को गिरने से बचाने के लिए भी अत्यंत फायदेमंद है. इसके लिए पौधे के चंद पत्तों को पानी में अच्छी तरह उबाल लें और फिर उस पानी को ठंडा कर लें. अब उस पानी को बालों की जड़ों में लगाएं और चंद मिनट तक सिर का मसाज करें. उसके 10-15 मिनट बाद सिर को धो लें. ऐसा करने से बाल गिरना कम हो जाएगा.
झुर्रियां घटाने में मददगार
पुदीने में चेहरे की झुर्रियों को कम करने का गुण भी पाया जाता है. पानी में पुदीने के पत्ते डालकर उबाल लें. उसके बाद उसे छान कर एक स्प्रे बोतल में रख लें. उस स्प्रे को दिन में 2-3 बार चेहरे पर लगाएं. उससे स्किन चमकदार हो जाती है और झुर्रियों में स्पष्ट कमी देखने को मिलेगी.
पाचन तंत्र को दुरुस्त करता है
अगर आप मिर्च, मसाले से भरपूर फूड खाने के बाद या उसके साथ पुदीने के चंद पत्तों को खा लें, तो खाना आसानी से पच जाता है और सीने में जलन या भारीपन की भी शिकायत नहीं होती है.
सुगंध और जायके को बढ़ाता है
पुदीने की एक और विशेषता उसका सुगंधित होना है. उसका इस्तेमाल पकवान की सजावट के लिए भी किया जाता है और ये सुगंध न सिर्फ भूख को बढ़ाती है बल्कि डिश को जायकेदार भी बनाने का काम करती है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.