संयुक्त राज्य अमेरिका में कोरोना वायरस महामरी से दुनिया में सबसे ज्यादा त्रस्त देश बन गया है। अमेरिका शनिवार को मौतों का आंकड़ा 20,000 पर पहुंचने के साथ ही इटली को पछाड़कर सर्वाधिक मौतों वाला देश बन गया है। यूरोपीय देश इटली में अब तक कुल 19,468 मौतें हुई हैं।

अमेरिका में शनिवार रात 10 बजे तक संक्रमण के करीब 5.10 लाख मामले सामने आ चुके थे। कोविड-19 के कारण महज कुछ ही सप्ताह में अमेरिकी अर्थव्यवस्था थम-सी गई है। राष्ट्रीय आपातकाल के मद्देनजर 95 प्रतिशत से ज्यादा आबादी घरों में सिमटी हुई है और करीब 1.60 करोड़ लोग अपनी नौकरियां गंवा चुके हैं।

न्यूयॉर्क में शव तेजी से दफनाए जा रहे : न्यूयॉर्क शहर में मरने वालों की बढ़ती संख्या देखते हुए प्रशासन मुर्दाघरों में जगह खाली करने के लिए शव तेजी से दफना रहा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक न्यूयॉर्क में लावारिस शवों को दफनाने की जगह हार्ट आईलैंड में पहले सप्ताह में एक बार हर गुरुवार को लावारिस शव दफनाए जाते थे, लेकिन अब सप्ताह में पांच दिन शव दफनाए जाते हैं और प्रतिदिन लगभग 25 शव दफनाएं जा रहे हैं। कोरोना वायरस महामारी से पहले शहर के मुर्दाघरों में लावारिस शव 30 से 60 दिनों तक रखे जाते हैं, उसके बाद उन्हें आईलैंड में दफना दिया जाता है।

वर्ल्ड हिंदू काउंसिल दे रही मुफ्त भोजन और मदद : वर्ल्ड हिंदू काउंसिल ऑफ अमेरिका के स्वयंसेवक बोस्टन में लॉवेल जनरल अस्पताल और आपातकालीन कर्मियों को मुफ्त भोजन की आपूर्ति कर रहे हैं। उसने 85 हजार दस्ताने भी न्यूजर्सी में पुलिस, दमकलकर्मियों, आपात सेवा में जुटे कर्मियों को दिए। न्यूजर्सी के ओक ट्री रोड के दवे ने स्वास्थ्य कर्मियों को 1000 फेस मास्क देने के लिए रकम जुटाने की मुहिम शुरू की है।

मांस बाजारों में कोरोना की दस्तक, सैकड़ों संक्रमित : अमेरिका प्रमुख राज्यों और शहरों में हजारों लोगों को लीलने के बाद संक्रामक महामारी कोरोना वायरस की दस्तक देश के मांस बाजारों में हो चुकी है। पिछले एक सप्ताह में बूचड़खानों से सैकड़ों संक्रमित सामने आए हैं।

ट्रंप ने कहा, चीन विकासशील देश होने का फायदा उठाता है : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आरोप लगाया कि अगर चीन विकासशील देश होकर फायदा उठाता है तो अमेरिका को भी विकासशील देश ही बना दो। ट्रंप ने कहा कि चीन ने अविश्वसनीय रूप से हमारा और अन्य देशों का फायदा उठाया है।

40 भारतीय अमेरिकी नागरिकों की जान गई: कोविड-19 के कारण 40 से ज्यादा भारतीय अमेरिकियों और भारतीय नागरिकों की मौत हुई है, भारतीय मूल के 1,500 से ज्यादा लोग संक्रमित हैं। सामुदायिक नेताओं का आकलन है कि न्यूजर्सी में 400 से ज्यादा और न्यूयॉर्क में 1,000 से ज्यादा भारतीय-अमेरिकी संक्रमित पाए गए हैं। जान गंवाने वालों में 17 केरल के थे। गुजरात के 10, पंजाब के चार, आंध्र प्रदेश के दो, ओडिशा का एक व्यक्ति भी शामिल था। मृतकों में सुनोवा एनालिटिक्स इंक. के सीईओ हनुमंत राव मारेपल्ली भी शामिल हैं। उनकी मौत न्यूजर्सी के एडिसन में हुई। चंद्रकांत अमीन (75) और महेंद्र पटेल (60) भी शामिल हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.