बहराइच और बाराबंकी में पीएम मोदी ने की विजय संकल्प रैली] टोटी तक नहीं छोड़ने वाले जनता के लिए कैसे छोड़ेंगे धन

लखनऊ । यूपी में पांचवें चरण में अवध क्षेत्र में होने वाले मतदान को लेकर मंगलवार को पीएम मोदी ने बहराइच और बाराबंकी में रैली की। बहराइच शहर से तीन किमी दूर फत्तेपुरवा महाराजा सुहेलदेव स्थल पर आयोजित विजय संकल्प रैली में उन्होंने बहराइच, कैसरगंज, श्रावस्ती और गोण्डा लोकसभा सीट के प्रत्याशियों के पक्ष में वोट मांगें। वहीं बाराबंकी में आयोजित रैली में उन्होंने बाराबंकी, मोहनलालगंज और रायबरेली लोकसभा सीट के प्रत्याशियों के पक्ष में जनता से वोट देने की अपील की। उन्होंने जनता से कहा कि एक बार फिर से इतनी गर्मी में आपका हम सभी को आशीर्वाद देने पहुंचना किसी सौभाग्य से कम नहीं है। इस गर्मी में असली पसीना उनका छूट रहा है जो मोदी हटाओ- मोदी हटाओ के गीत गुनगुनाते रहते हैं।

जनता पूरी तरह से तय कर चुकी है कि इन लोगों को हराना है
पीएम नरेंद्र मोदी ने बहराइच व बाराबंकी में सपा-बसपा-रालोद गठबंधन की चुटकी भी ली। उन्होंने कहा कि 23 मई को चुनाव परिणाम आने के बाद यह एक-दूसरे के कपड़े फाड़ेंगे। जनता पूरी तरह से तय कर चुकी है कि इन लोगों को हराना है। उन्होंने कहा कि इनकी दोस्ती की एक्सपायरी डेट 23 मई तय हो चुकी है। उन्होंने कह कि सपा-बसपा या फिर कांग्रेस का प्रत्याशी किसी की भी जमानत नहीं बचनी चाहिए। उन्होने कहा कि सपा और बसपा आज सूपड़ा साफ होने के डर से भले ही साथ आ गए हो, लेकिन जनता सब समझ रही है। उन्होंने कहा कि यह तो वही मिसाल है कि कहा-रहिम कैसे निभे बैर गैर के संग। आखिरक कुछ हफ्तों का ही साथ है। यह जल्द ही एक दूसरे के कपड़े फाड़ने लगेंगे। पीएम मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में कहा कि हमारी सरकार में ही इतनी हिम्मत है कि हम सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक कर सकते हैं, इतना अन्य सरकारें नहीं कर सकती है। उन्होंने कहा कि हम कहीं पर भी घुस कर मार सकते हैं। इससे सुरक्षा बढ़ेगी, हम किसी के दबाव में नहीं आएंगे। अब अयोध्या और मथुरा के मंदिरों में, बाजारों पर रेलवे स्टेशन पर बम धमाके नहीं सुनाई पड़ते हैं। यह सिर्फ मोदी के डर से बंद हुए हैं। खतरा सिर्फ टला है अभी। हमारे आसपास आंतकी नर्सरी चल रही है। उन्होंने क्या यह सपा या बसपा उसे रोक सकती है। कांग्रेस इसे बंद कर सकती है क्या।

अखिलेश ने टोटी तक नहीं छोड़ी
भ्रष्टाचार का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अखिलेश यादव ने सरकारी कार्यालय में टोटी तक नहीं छोड़ी। ऐसे लोग जनता को आखिरकार क्या फायदा देंगे। उन्होंने कहा कि गठबंधन की सरकारें पूरी तरह से जनता को लूटने में जुटी हुई हैं। उन्होंने कहा कि इनके कार्याकाल के जनता ने देखा है। इन सरकारों ने बिजली घोटाला से लेकर खनन घोटाला तक किया है। यही नहीं उनकी सरकारों ने घोटालों की पूरी सीरिज लगा दी है।

कांग्रेस ने सरदार पटेल को नहीं बनाया पहला प्रधानमंत्री

कांग्रेस ने सरकार वल्लभभाई पटेल को प्रधानमंत्री नहीं बनाया है, यह उसकी सोची समझी साजिश थी। अगर सरदार पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री होते तो आज देश की सूरत ही कुछ अलग होती। अगर पटेल जी आगे होते तो यूपी में सोनेलाल पटेल भी आगे होते, लेकिन कांग्रेस की वजह से ऐसा नहीं हो पाया। उन्होंने कांग्रेस पर यह भी आरोप लगाया कि सरकार पटेल को पीछे करने में उसका ही पूरा हाथ रहा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.