अभी हाल ही में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों कृषि कानून को वापस लेने की घोषणा की है. विपक्ष के नेता और कुछ लोग इसे यूपी समेत कई राज्यों में होने वाले चुनाव से जोड़कर देख रहे थे. इसके साथ विपक्ष को एक और एंगल मिल गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ की कंधे पर हाथ रखने वाली तस्वीर को लेकर सियासत तेज हो गई है. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बिना किसी का नाम लिए हुए इस तस्वीर को लेकर व्यंग्य किया है.
अखिलेश यादव ने रविवार को ट्वीट कर लिखा, “दुनिया की खातिर, सियासत में कभी यूं भी करना पड़ता है. बेमन से कंधे पर रख हाथ, कुछ कदम संग चलना पड़ता है.” बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दो तस्वीरें अपने ट्विटर अकाउंट से पोस्ट कीं. ये तस्वीरें देखते ही देखते सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं.

योदी आदित्यनाथ ने शेयर कर क्या लिखा?
योगी ने लिखा, ‘हम निकल पड़े हैं प्रण करके, अपना तन-मन अर्पण करके. जिद है एक सूर्य उगाना है, अंबर से ऊंचा जाना है, एक भारत नया बनाना है.’ इस तस्वीर को लेकर बलिया सांसद और पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा वीरेंद्र सिंह मस्त ने भी शेयर किया. उन्होंने लिखा, ‘चाहे जितना जोर लगालो जीतेगी बीजेपी ही आएंगे फिर योगी जी आएंगे फिर योगी जी.’
डीजीपी सम्मेलन में शामिल होंगे पीएम मोदी
बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के यूपी दौरे का आज आखिरी दिन है. आज वे लखनऊ में चल रहे डीजीपी सम्मेलन में शामिल होंगे. इस सम्मेलन में पुलिस सुधार समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा चल रही है. इससे पहले शुक्रवार को गृह मंत्री अमित शाह ने इस सम्मेलन का उद्घाटन किया था. इस सम्मेलन में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के डीजीपी, सशस्त्र पुलिस बलों और केंद्रीय पुलिस संगठनों के प्रमुख मौजूद हैं. सम्मेलन में साइबर क्राइम, डेटा गवर्नेंस, आतंकवाद से पैदा हुई चुनौतियों, वामपंथी उग्रवाद और जेल सुधार सहित कई मुद्दों पर मंथन हो रहा है. पीएम मोदी इस सम्मेलन में शनिवार को भी शामिल हुए थे.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.