अलीगढ़: भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत गुरुवार को अलीगढ़ के टप्पल में निजी कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे. इस दौरान उन्होंने भारतीय किसान यूनियन की मुख्य कार्यकारिणी के सदस्यों से बात की और आगे की रणनीति पर चर्चा की. लखीमपुर खीरी की घटना को लेकर राकेश टिकैत मुखर हैं. उन्होंने कहा कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टैनी 120B का मुजरिम है. उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज है. पुलिस उसे गिरफ्तार करे. वहीं, राकेश टिकैत ने अजय टैनी को मंत्री पद से बर्खास्त करने की मांग की है. उन्होंने कहा कि जब तक मंत्री पद पर अजय मिश्र टैनी बने रहेंगे. तब तक जांच को प्रभावित करेंगे. सरकार पर निशाना साधते राकेश टिकैत ने कहा कि अभी केवल रेड कारपेट गिरफ्तारी है और गुलदस्ते के साथ में पूछताछ की जा रही है.
राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक मंत्री की बर्खास्तगी नहीं होगी. तब तक आंदोलन चलता रहेगा. 18 अक्टूबर को देशभर में 6 घंटे ट्रेन रोकने का अभियान होगा. वहीं 26 अक्टूबर को लखनऊ में बड़ी किसान पंचायत का आयोजन किया जाएगा. किसानों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य की बात करते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि धान और बाजरा को सरकारी रेट पर किसानों को दाम दिलाने का काम सरकार करें. उन्होंने कहा कि जब तक गृह राज्य मंत्री इस्तीफा नहीं देते हैं. तब तक झूठे गवाह पेश किए जाएंगे. लोग अपने ऊपर केस ले लेंगे. इससे सच्चाई सामने नहीं आएगी. इसलिए अजय टैनी का इस्तीफा देना जरूरी है.
राकेश टिकैत ने कहा कि जो जांच चल रही है. उससे संतुष्ट नहीं है. जब तक अजय टैनी का इस्तीफा नहीं लिया जाता और पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं करती. तब तक देश का किसान भी संतुष्ट नहीं होगा. मामला किसान से जुड़ा हुआ है. अजय टैनी की लखीमपुर में 100 किलोमीटर से ज्यादा क्षेत्र में दहशत है. इनका नेपाल तक साम्राज्य फैला हुआ है. इसलिए पीड़ित किसान को न्याय दिलाने के लिए वे उनके साथ खड़े हैं.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.