मेरठ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के लिए समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल के बीच गठबंधन का औपचारिक एलान मंगलवार को हो गया. सपा प्रमुख अखिलेश यादव और रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने मेरठ के दबथुवा में आयोजित ‘परिवर्तन संदेश रैली’ में इस गठबंधन की घोषणा की. इस दौरान अपने संबोधन में जयंत चौधरी ने भाजपा और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर खूब जुबानी प्रहार किए.
रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने कहा, “आज मैं इस पंचायत में कहना चाहता हूं, हम और अखिलेश जी साथ चल रहे हैं. हमारे गठबंधन का एलान आज इसी मंच से हो गया. हम देंगे डबल इंजन की सरकार. जब अखिलेश जी का विजय रथ जीतकर लखनऊ पहुंचेगा, तब हम पहला काम चौधरी चरण सिंह जी की कर्मभूमि मेरठ में शहीद किसानों की स्मृति में एक स्मारक बनाने का करेंगे.”
अखिलेश यादव की तारीफ में जयंत चौधरी ने पढ़े कसीदे
सपा प्रमुख की तारीफ में कसीदे पढ़ते हुए जयंत ने कहा,” अखिलेश जी ने यूपी में एक्सप्रेस-वे बनवाए. वह इंजीनियरिंग की भाषा जानते हैं, विज्ञान को समझते हैं, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की बात करते हैं. लेकिन बाबा जी को ये सारी बातें समझ नहीं आतीं.” राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष ने समाजवादी पार्टी प्रमुख की तारीफ की तो मुख्यमंत्री योगी पर गोवंश के प्रति उनके प्रेम के लिए कटाक्ष भी किया.
गोवंश के प्रति प्रेम को लेकर मुख्यमंत्री योगी पर निशाना
जयंत ने कहा, ”बाबा जी को गुस्सा भी बहुत आता है. मैंने बाबा जी को हंसते हुए कभी नहीं देखा. एक बार आप भी नजर डालना बाबा जी तभी खुश नजर आते हैं, जब वह बछड़ों के बीच होते हैं. इस बार 2022 में आप फैसला लो और बाबा जी को पूरी तरह फ्री कर दो कि वह चौबीस घंटे गोरखपुर में बछड़ों के साथ खेलें.”
कैराना पलायन को लेकर जयंत चौधरी ने जानें क्या कहा
रालोद प्रमुख ने पलायन के मुद्दे पर भी सीएम योगी को घेरने की कोशिश की. उन्होंने कहा, “आप देखिए यूपी के हमारे बाबा जी औरंगजेब को गाली देकर अपने भाषण की शुरुआत करते हैं और उनकी गाड़ी कैराना पलायन पर जाकर रुक जाती है. उत्तर प्रदेश के हर जिले का नौजवान पलायन करके देश के बड़े शहरों में काम करने जा रहा है. तब उनको पलायन नहीं दिखता?”
UPTET पेपर लीक मामले में योगी सरकार पर तंज कसा
UPTET का पेपर लीक होने पर भी तंज कसते हुए जयंत चौधरी ने कहा, ”उत्तर प्रदेश में नौजवान पेपर देने जाते हैं, पेपर लीक हो जाता है. भर्ती के लिए बुलाया जाता है, कभी नौकरी लग नहीं पाती. भाजना की डबल इंजन सरकार का हाल यह है कि बिजनौर में विधायक ने सड़क पर नारियल फोड़ा, नारियल नहीं टूटा और सड़क टूट गई.”
खेती-किसानी को लेकर केंद्र सरकार पर बरसे RLD चीफ
खेती-किसानी के मुद्दे को लेकर भी रालोद प्रमुख ने केंद्र की मोदी सरकार पर वार किए. जयंत चौधरी ने कहा, ”एक साल तक किसानों पर वार हुआ, उनका अपमान हुआ. लेकिन भाजपा के किसी भी नेता की एक शब्द बोलने की हिम्मत नहीं हुई. हम नहीं भूल सकते कि लखीमपुर में किस तरह से किसानों को रौंदा गया था, आंदोलन में 700 लोगों की मौत हो गई. मैं जनता हूं भाजपा में कुछ तो ऐसे हैं, जब उनकी भर्ती हुई थी तो वे घोड़े थे, अब खच्चर बन चुके हैं.”

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.