करीब 9 महीने पहले टीम इंडिया के लिए टेस्ट डेब्यू करने बाएं हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल भारतीय पिच पर विदेशी बल्लेबाजों के लिए पहेली साबित होते जा रहे हैं. इंग्लैंड के खिलाफ डेब्यू सीरीज में ही रिकॉर्डतोड़ विकेट लेने वाले अक्षर पटेल का ताजा शिकार बने हैं न्यूजीलैंड के बल्लेबाज, जिन्हें कानपुर टेस्ट के तीसरे दिन भारतीय स्पिनर के सामने घुटने टेकने पर मजबूर होना पड़ा. रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा जैसे दिग्गज स्पिनरों की मौजूदगी में अक्षर ने एक बार फिर कहर बरपाते हुए न्यूजीलैंड की आधी टीम को पवेलियन लौटा दिया और टीम इंडिया की वापसी भी कराई. साथ ही अपने बेहतरीन रिकॉर्ड को और भी शानदार बना दिया.
भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट के दूसरे दिन टीम इंडिया को कोई सफलता नहीं मिली थी, लेकिन तीसरे दिन भारतीय गेंदबाजों ने जबरदस्त वापस की और न्यूजीलैंड की पारी की बुनियाद हिलाते हुए धड़ाधड़ विकेट गिराए. रविचंद्रन अश्विन ने विकेट लेने की शुरुआत की और उसके बाद तो पूरी पारी पर अक्षर पटेल छा गए, जिन्होंने न्यूजीलैंड की पारी के 5 विकेट अपने नाम करते हुए सिर्फ 4 टेस्ट के करियर में चार चांद और लगा दिए.
लैथम को शतक से रोका
अक्षर पटेल ने अपना पहला शिकार न्यूजीलैंड के सबसे अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर को बनाया, जिन्हें विकेटकीपर केएस भरत ने लपका. इसके बाद अक्षर ने हेनरी निकोल्स को भी सस्ते में निपटाते हुए अपना दूसरा विकेट हासिल किया. भारतीय स्पिनर ने सबसे बड़ी सफलता कीवी ओपनर टॉम लैथम के रूप में हासिल की, जिन्हें अक्षर ने लेंथ और स्पीड में बदलाव करते हुए छकाया और स्टंप आउट करवा दिया. खास बात ये थी कि अक्षर ने लैथम को शतक पूरा नहीं करने दिया. वह 95 रन बनाकर आउट हुए. फिर अक्षर के शिकार बने टॉम ब्लंडेल और टिम साउदी, जिन्हें अक्षर ने बोल्ड किया.
सिर्फ 7 पारियों में पांचवीं बार 5 विकेट
इस साल फरवरी में इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई टेस्ट में अपना डेब्यू करने वाले अक्षर ने इस तरह करियर के सिर्फ चौथे टेस्ट में ही पांचवीं बार एक पारी में 5 विकेट झटक डाले. अक्षर ने सिर्फ सातवीं पारी में पांचवीं बार ऐसा कमाल किया और दिग्गज गेंदबाजों की सूची में अपना नाम लिखवाया. वह सबसे कम पारियों में पांच बार पांच विकेट लेने के मामले में चार्ली टर्नर और टॉम रिचर्डसन के साथ दूसरे नंबर पर आ गए. ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज तेज गेंदबाज रॉडनी हॉग ने सिर्फ 6 पारियों में ये कमाल किया है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.