लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को बड़ी घोषणा की है. उन्होंने कहा कि 3 लाख से अधिक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और आंगनबाड़ी सहायिकाओं को बढ़ा हुआ मानदेय दिया जाएगा. बढ़ा हुआ मानदेय पुराने मानदेय के मुकाबले 50 फीसदी तक बढ़ जाएगा. इसके अतिरिक्त कोरोना काल के 2 साल में निगरानी समितियों के साथ जुड़कर काम करने को लेकर आंगनबाड़ी और मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 500 रुपये प्रतिमाह और आंगनबाड़ी सहायिकाओं को 250 रुपये प्रतिमाह बोनस राशि भी दी जाएगी.
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 306829 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को जो मानदेय मिलता है, उसको हम बढ़ा रहे हैं. कोविड में जो काम किया है. उसके लिए एक अप्रैल 2020 से 31 मार्च 2022 तक आंगनबाड़ी औए मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 500 रुपये प्रति माह, सहायिका को 250 रुपये मानदेय अतिरिक्त देंगे. इसके अलावा जिन कार्यकर्ताओं को 5500, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को 4259 और सहायिका को 2750 रुपये मिलते थे, उसको बढ़ाकर अब यह मानदेय क्रमशः 8000, 6500 और 4000 तक मिलेगा.
उन्होंने कहा कि प्रदेश में वास्तव में पोषाहार की 2017 से पहले खराब होने या वितरित न होने की शिकायत थी. इसका असर मातृ और शिशु दर पर दिखाई देता था. पूर्वी उत्तर प्रदेश में मष्तिष्क ज्वर से मौत होती थीं. हम आज मष्तिष्क ज्वर से मुक्त हुए हैं. वे बच्चे प्रदेश की अमानत थे. हमने संवेदना दिखाई. वही प्रबंधन हमने कोरोना में भी लागू किया है. हमने आंगनबाड़ी को मजबूत किया है. क्वालिटी स्तर की जांच की है. जिससे फर्क पड़ा है.
नई शिक्षा नीति में आंगनबाड़ी बनेंगे प्ले स्कूल
योगी ने कहा कि नई शिक्षा नीति में के तहत बुनियादी शिक्षा के लिए तीन से पांच साल के बच्चों का नामांकन होगा. आंगनबाड़ी केंद्रों में यह शिक्षा दी जाएगी. मुझसे मिलने के लिए आंगनबाड़ी के नेता आते थे. 2018 के बाद आपने आंदोलन नहीं किया है. स्वास्थ्य रैंकिंग में सुधार हुआ है. कुछ न कुछ सुधार हुआ है. तकनीक के उपयोग ने आपके काम को सरल किया है. साढ़े पांच लाख ग्रोथ मॉनीटिरिंग डिवाइस उपलब्ध करवाया है.
खुद राज्यपाल आनंदी बेन पटेल भी आपसे संवाद कर रही हैं. अधिकतर आंगनबाड़ी केंद्रों के अपने भवन बन चुके हैं. 2022 में सभी आंगनबाड़ी केंद्र के अपने भवन होंगे. पोषण वाटिका को बनाया जा रहा है. इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में सोमवार को 585 आंगनबाड़ी केंद्रों का शिलान्यास और 169 आंगनबाड़ी केंद्रों का लोकार्पण समारोह का आयोजन किया गया. इस मौके पर प्रदेश की बाल विकास एवं पुष्टाहार मंत्री स्वाति सिंह, संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना, मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र, अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल भी मौजूद रहे.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.