अभिनेता आमिर खान द्वारा लोगों को सड़कों पर पटाखे न चलाने की सलाह दिए जाने से संबंधित, टायर कंपनी CEAT लिमिटेड के विज्ञापन पर आपत्ति व्यक्त करते हुए BJP सांसद अनंत कुमार हेगड़े ने कहा है कि कंपनी को ‘‘नमाज के नाम पर सड़कों को अवरुद्ध किए जाने और अजान के दौरान मस्जिदों से निकलने वाले शोर’’ से संबंधित समस्या का समाधान भी करना चाहिए. कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अनंत वर्धन गोयनका को लिखे एक पत्र में हेगड़े ने कहा है कि वह ‘‘हिंदुओं में रोष’’ उत्पन्न करने वाले हालिया विज्ञापन का संज्ञान लें.
हेगड़े ने पत्र में कहा, ‘‘आपकी कंपनी का हालिया विज्ञापन, जिसमें आमिर खान लोगों को सड़कों पर पटाखे नहीं चलाने की सलाह दे रहे हैं, एक बहुत अच्छा संदेश दे रहा है. सार्वजनिक मुद्दों पर आपकी चिंता के लिए सराहना किए जाने की जरूरत है. इस संबंध में, मैं आपसे सड़कों पर लोगों के सामने आने वाली एक और समस्या का समाधान करने का अनुरोध करता हूं…जिसमें कि शुक्रवार और अन्य महत्वपूर्ण त्योहारों के दिन नमाज के नाम पर मुस्लिमों द्वारा सड़कें जाम कर दी जाती हैं.’
एंबुलेंस और दमकल की गाड़ियों के फंसने का जिक्र
उन्होंने 14 अक्टूबर को लिखे अपने पत्र में कहा कि यह कई भारतीय शहरों में एक बहुत ही सामान्य दृश्य है जहां मुसलमान व्यस्त सड़कों को अवरुद्ध करते हैं और नमाज अदा करते हैं और उस समय एंबुलेंस और दमकल वाहनों जैसे वाहन भी यातायात में फंस जाते हैं, जिससे ‘गंभीर क्षति’ होती है. उत्तर कन्नड़ निर्वाचन क्षेत्र से सांसद हेगड़े ने पत्र में गोयनका से यह भी कहा है कि वह कंपनी के विज्ञापनों में ध्वनि प्रदूषण का मुद्दा भी उठाएं क्योंकि ‘‘हमारे देश में मस्जिदों के ऊपर लगे लाउडस्पीकर से अजान के समय बहुत अधिक शोर होता है.’’ उन्होंने कहा, ‘वह ध्वनि अनुमेय सीमा से परे है. शुक्रवार को, इसे कुछ और समय के लिए बढ़ाया जाता है. इससे विभिन्न बीमारियों से पीड़ित लोगों और आराम करने वाले लोगों, विभिन्न प्रतिष्ठानों में काम करने वाले लोगों और कक्षाओं में पढ़ाने वाले शिक्षकों के लिए बड़ी असुविधा पैदा हो रही है.
विज्ञापन ने हिंदुओं में रोष पैदा किया
हेगड़े ने कहा कि दरअसल, पीड़ितों की यह सूची बहुत लंबी है और यहां केवल कुछ का उल्लेख किया गया है.’ सांसद ने पत्र में कहा, ‘चूंकि आप आम जनता के सामने आने वाली समस्याओं के प्रति बहुत संवेदनशील हैं और आप भी हिंदू समुदाय से हैं, मुझे यकीन है कि आप सदियों से हिंदुओं के साथ किए गए भेदभाव को महसूस कर सकते हैं.’ उन्होंने यह भी कहा कि आजकल ‘हिंदू-विरोधी अभिनेताओं’ का एक समूह हमेशा हिंदू भावनाओं को आहत करता है, जबकि, वे कभी भी अपने समुदाय के गलत कामों को उजागर करने की कोशिश नहीं करते हैं. हेगड़े ने कहा, ‘‘इसलिए, मैं आपसे इस विशेष घटना का संज्ञान लेने का अनुरोध करता हूं, जहां आपकी कंपनी के विज्ञापन ने हिंदुओं में रोष पैदा किया है.’’ उन्होंने आशा व्यक्त की कि भविष्य में गोयनका का संगठन हिंदू भावनाओं का सम्मान करेगा और इसे प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से, किसी भी तरह से आहत नहीं करेगा.
(भाषा के इनपुट के साथ)

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.