लखनऊ: आम आदमी पार्टी के सासंद संजय सिंह द्वारा यूपी के जलशक्ति मंत्री महेन्द्र सिंह पर लगाये गये भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. मंत्री महेन्द्र सिंह ने अपने ऊपर लगे आरोपों को झूठा करार दिया, तो सांसद संजय सिंह ने एक बार फिर महेन्द्र सिंह पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए उन्हें कहीं भी अब इस मुद्दे पर खुली बहस की चुनौती दे दी है. जिसके बाद बस्ती से भाजपा विधायक अजय सिंह ने भी मंगलवार को इस मामले में AAP सासंद संजय सिंह पर धोखाधडी और मानहानि का आरोप लगाते हुए लखनऊ के हजरतगंज थाने में उनके खिलाफ FIR दर्ज करा दी. संजय सिंह के खिलाफ हजरतगंज थाने में आईपीसी 417,465,469,501,505(1)(b) में एफआईआर दर्ज की गई है.

AAP सांसद संजय सिंह की हो तत्काल गिरफ्तारी
इस दौरान बस्ती के हरैया से बीजेपी विधायक अजय सिंह ने कहा कि ‘8 अगस्त को AAP नेता संजय सिंह ने प्रेस कांफ्रेस कर जल जीवन मिशन में पाइप घोटाले का आरोप लगाया था. जिसमें उन्होंने मेरा भी नाम लिया था. जिसके चलते जलशक्ति मंत्री महेन्द्र सिंह ने इस मामले पर बीते सोमवार को अपनी बात रख दी थी, लेकिन क्योंकि इस मामले में उन्होंने मेरा भी नाम लिया था कि मैंने जलशक्ति विभाग के खिलाफ शिकायत की है. जोकि पूरी तरह से झूठ है. मैंने सपा शासन काल में बने चेकडैम के खिळाफ शिकायत की थी. जिसकी जांच भी शुरू हुई थी. तब तो जलशक्ति विभाग का गठन भी नहीं हुआ था. संजय सिंह ने फ्राड किया है, और फर्जी तरीके से मेरा नाम लेकर फर्जी दस्तावेज दिखाए हैं. संजय सिंह ने मेरी मानहानि की है. जब चुनाव आता है तो ये सरकार के खिलाफ बरसाती मेंढक की तरह निकल आते हैं. यूपी में इन फर्जी दस्तावेजों के आधार पर वो अपनी जमीन तलाशने का प्रयास कर रहे हैं. मैं उनके खिलाफ हजरतगंज थाने में FIR कराने आया हूं. हमारी मांग है कि संजय सिंह के खिलाफ तत्काल मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जाये.
मैं पाक-साफ हूं- बीजेपी विधायक अजय सिंह
हालांकि AAP सासंद संजय सिंह के खिलाफ मगलवार को FIR दर्ज कराने पहुंचे बीजेपी विधायक अजय सिंह पर भी न सिर्फ कई गंभीर आरोप लग चुके हैं, बल्कि बीते दिनों इनकम टैक्स विभाग ने बीजेपी विधायक अजय सिंह के ठिकानों पर छापा भी मारा था. जिसको लेकर बीजेपी विधायक अजय सिंह ने कहा कि ‘ जब विपक्ष के नेताओं के घर छापा पडता है तो वो ये कहते हैं कि सत्तापक्ष विपक्ष की आवाज दबाने के लिये छापे मरवा रहा है, लेकिन सारी एजेंसियां निष्पक्ष और स्वतंत्र होती हैं. मेरे घर भी इनकम टैक्स का छापा पडा था. जिसके बाद दूध का दूध, पानी का पानी हो गया है. एक भी रूपये का गलत लेन-देन नहीं हुआ है. आज मैं पाक-साफ हूं.’

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.