टोक्यो: जापान को नए प्रधानमंत्री मिल गए हैं। पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे (Shinzo abe) के करीबी माने जाने वाले योशिहिदे सुगा (Yoshihide Suga) देश के नए प्रधानमंत्री बने हैं। जापान के सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहे आबे (Shinzo abe) ने पिछले महीने घोषणा की थी कि वह स्वास्थ्य कारणों के चलते पद छोड़ेंगे। ऐसे में उन्होंने प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा (Resign) देते हुए अपने उत्तराधिकारी के लिए राह साफ कर दी थी।
शिंजो आबे के इस्तीफा देने के बाद योशिहिदे सुगा को सोमवार को जापान की सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी का नया नेता चुना गया था और इसके साथ ही उनका प्रधानमंत्री बनना तय हो गया था। वह मंत्रिमंडल के प्रमुख सचिव भी रहे हैं। वह आबे के काफी करीबी हैं और 2006 से उनके समर्थक रहे हैं। आबे के उत्तराधिकारी को चुनने के लिए हुए आंतरिक मतदान में सुगा को सत्तारूढ़ लिबरल डेमाक्रेटिक पार्टी में 377 वोट मिले और अन्य दो दावेदारों को 157 वोट हासिल हुए थे।
सुगा ने कहा कि वह आबे की नीतियों को ही आगे बढ़ाएंगे और उनकी प्राथमिकता में कोरोना वायरस (Coronavirus) से निपटना और वैश्विक महामारी (Pandemic) के दौरान अर्थव्यवस्था बेहतर करना होगा। बता दें कि शिंजो आबे के साथ सुगा ने लंबे समय तक काम किया है। वह जापान में सबसे लंबे समय तक मुख्य कैबिनेट सचिव रहने वाले व्यक्ति हैं। वह आबे के नीति समन्वयक तथा सलाहकार रहे हैं। सुगा ने नौकराशाहों पर नीतियां लागू करने पर जोर दिया। यह प्रधानमंत्री कार्यालय की एक मुख्य कड़ी के तौर पर रहे हैं।
हालांकि, साल 2019 में सुगा को अपनी द्वेषपूर्ण प्रतिक्रिया के कारण विरोध प्रदर्शनों का सामना करना पड़ा था। 71 साल के सुगा लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी में किसी गुट से संबद्ध नहीं रहे हैं। उन्हें आबे की नीतियों को आगे बढ़ा सकने की क्षमता वाले व्यक्ति के रूप में देखा जा रहा है। इन नीतियों में अमेरिका के साथ सुरक्षा गठबंधन, कोरोना वायरस महामारी को कंट्रोल करना तथा अर्थव्यवस्था को और मजबूत करना शामिल है। इनके अलावा भी कई नीतियां हैं, जिन्हें आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी सुगा पर होगी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.