गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर के हिंदू आश्रम में जनता दरबार लगाया. इस दौरान दूरदराज से आए हुए लोगों की उन्होंने फरियाद सुनी. साथ ही समस्याओं के निपटारे के लिए मौके पर मौजूद अधिकारियों को निर्देशित किया. जनता दरबार में आए हुए फरियादियों में ज्यादातर लोगों की समस्या पुलिस और राजस्व से जुड़े हुए मामलों की थी. सीएम लोगों की फरियाद सुनते गए और उनके आवेदन पत्र लेते हुए एसएसपी को एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए. उन्होंने जमीन विवाद से जुड़े हुए मामलों के लिए जिलाधिकारी को मामलों का संज्ञान लेने को कहा.
सीएम योगी शुक्रवार सुबह गोरखपुर पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने गोरखनाथ मंदिर में आयोजित ब्रम्हलीन महंत अवेद्यनाथ और दिग्विजय नाथ की पुण्यतिथि समारोह में शामिल हुए. जनता दरबार में हर बार की तरह पुलिस की लापरवाही और अधिकारियों की कार्यशैली पर सवाल उठे. इस पर सीएम ने कहा कि आखिरकार थाना और तहसील दिवस में अधिकारी कर क्या रहे हैं जो इतनी शिकायतें उन तक पहुंच रही हैं. उन्होंने कमिश्नर और डीएम के साथ एसएसपी को लापरवाह अधिकारियों की समीक्षा करने और कार्रवाई करने को कहा. सीएम योगी आज गोरखपुर से पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्म दिन के अवसर पर गरीब कल्याण का शुभारंभ करेंगे और जनहित की योजनाओं से लाभान्वित लोगों को प्रमाण पत्र भी देंगे. इसके बाद वे गोंडा के लिए निकल जाएंगे.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.