लखनऊ। चन्द्रशेखर आजाद की अगुवाई वाली भीम आर्मी भी सुभासपा अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर की ओर से बनाए गए भागीदारी संकल्प मोर्चा का हिस्सा होगी। दोनों नेताओं की बातचीत में साथ आने पर सहमति बन गई है। अगले कुछ दिनों में दोनों नेता साथ आने की घोषणा करेंगे।
इस बीच मोर्चा का कुनबा और बढ़ाने के लिए ओम प्रकाश राजभर और एआईएमआईएम अध्यक्ष ओवैसी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव से लगातार संपर्क बनाए हुए हैं। बताया जा रहा है शिवपाल और ओवैसी की मुलाकात पर अखिलेश यादव को बड़ा झटका है। अगर दोनों के बीच समझौता हो जाता है तो सपा के वोट बैंक में सेंध लगना तय है।
शिवपाल से ओवैसी ने की मुलाकात
इस सिलसिले में उन्होंने मंगलवार रात शिवपाल यादव के आवास पर जाकर उनसे मुलाकात की। दोनों नेताओं ने इसे शिष्टाचार भेंट बताया। लेकिन माना जा रहा है कि शिवपाल को इस मोर्चे में शामिल कराने का प्रस्ताव दिया गया है। अभी शिवपाल ने अपना रुख स्पष्ट नहीं किया है। हालांकि इस साल फरवरी में भी औवेसी व शिवपाल यादव आजमगढ़ में एक विवाह समारोह में घंटे भर अलग मुलाकात कर चुके हैं।
भीम आर्मी भी मोर्चे में होगा शामिल
भीम आर्मी के भागीदारी संकल्प मोर्चा में शामिल होने की पुष्टि ओम प्रकाश राजभर ने की है। बहुत जल्द लखनऊ में इसकी घोषणा की जाएगी। राजभर का मानना है कि चंद्रशेखर के मोर्चे में शामिल होने से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मोर्चा की ताकत और बढ़ जाएगी। राजभर का दावा है कि इंसाफ विकास पार्टी के मुकेश सहनी से भी बातचीत जारी है। राजभर ने बताया, अब तक 10 दलों को जोड़ा है। हाल ही में आम आदमी पार्टी के यूपी प्रभारी संजय सिंह से भी मुलाकात हुई थी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.