लखनऊ। एक तरफ कोरोना महामारी के चलते पूरे देश में 50 दिन से लॉक डाउन चल रहा है। लॉक डाउन के दौरान यूपी में आपराधिक घटनाएं ना के बराबर थी। लेकिन जब से लॉकडाउन का तीसरा चरण शुरू हुआ है और थोड़ी ढील दी गई है तब से ताबड़तोड़ आपराधिक वारदातें फिर शुरू हो गईं हैं। ताजा मामला सीतापुर जिला का है यहां घर बटवारें को लेकर जेठ ने एक विधवा को गोली मार दी। गोली लगते ही महिला लहूलुहान होकर गिर गई। लोगों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची और आनन-फानन में महिला को जिला अस्पताल में भर्ती कराया यहाँ डॉक्टरों ने उसकी हालत खतरे से बाहर बताई है। इन्स्पेक्टर कोतवाली ने बताया कि महिला की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर हमलावरों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पूरा मामला संदिग्ध लग रहा है आगे की कार्रवाई की जा रही है।
जानकारी के अनुसार, घटना कोतवाली क्षेत्र की है। यहां की निवासी लक्ष्मी त्रिवेदी (35) को बुधवार की रात करीब 11: 00 बजे संदिग्ध परिस्तिथियों में गोली लग गई। कैंची पुल के पास हुई घटना से हड़कंप मच गया। घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने आनन-फानन में महिला को अस्पताल में एडमिट करवाया। डॉक्टरों ने महिला को उपचार के बाद छुट्टी दे दी। इन्स्पेक्टर ने बताया कि महिला ने जेठ अजय त्रिवेदी, ससुर सहित चार लोगों पर तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया है। महिला का आरोप है कि रात में वह जब अस्पताल से लौट रही थी तभी दो बाइक पर सवार होकर चार लोग आये और गोली मार दी। गोली महिला के बाएं बांह पर कंधे के नीचे चीरती हुई निकल गई। गोली लगने से महिला की बांह में घाव हो गया। इन्स्पेक्टर ने बताया कि महिला के आरोपों के आधार पर जब आरोपियों को हिरासत में लेने के लिए दबिश दी गई तो वह घरों में सो रहे थे। उन्हें घटना की जानकारी ही नहीं थी। उन्होंने बताया कि महिला का घर बंटवारे और गाड़ी को लेकर विवाद चल रहा था। घटना संदिग्ध प्रतीत हो रही है। फ़िलहाल पूरे में निष्पक्ष जांच कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.