जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादियों से मुठभेड़ में जौनपुर के जिलाजीत यादव शहीद हो गए हैं। 26 वर्षीय जिलाजीत जौनपुर के धौरहरा इजरी बहादुरपुर पास स्थित सिरकोनी के निवासी थे। परिवार की इकलौती संतान जिलाजीत के शहीद होने की खबर मिलते ही कोहराम मच गया।

वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद जवान जिलाजीत यादव के शौर्य और वीरता को नमन करते हुए उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने शहीद के परिजनों को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता, परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी और जिले की एक सड़क का नाम शहीद के नाम पर करने की भी घोषणा की है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि राष्ट्र की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीद के सर्वोच्च बलिदान को सदैव याद रखा जाएगा। उन्होंने शहीद के परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि शोक की इस घड़ी में राज्य सरकार उनके साथ है। शहीद के परिवार को हर संभव मदद प्रदान की जाएगी।

आपकों बता दें कि पुलवामा में बुधवार की तड़के सुबह मराज़ीपोरा में एक बाग में आतंकी छिपे होने की सूचना मिलते ही सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर लिया और तलाशी अभियान चलाया। खुद को घिरा देख आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग कर दी। सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की। इस दौरान जिलाजीत शहीद हो गए। मारे गए एक आतंकी के पास से एक-47, ग्रेनेड के साथ ही अन्य आपत्तिजनक सामान बरामद हुआ है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.