उत्तर प्रदेश में 2022 के विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी लगातार अपनी रणनीति बनाने में जुटी है. हाल ही में उत्तर प्रदेश बीजेपी ने अपने सभी 22 प्रकोष्ठों और 26 विभागों के पदाधिकारियों की घोषणा की है, और अब इनकी एक बैठक सोमवार को लखनऊ में पार्टी मुख्यालय पर बुलाई गई है. 2022 के विधानसभा चुनाव को देखते हुए ये बैठक काफी अहम मानी जा रही है. बैठक में विधानसभा चुनाव में इन प्रकोष्ठों और विभागों का क्या रोडमैप रहेगा उस पर चर्चा होगी.
बढ़ गई हैं सियासी गतिविधियां
उत्तर प्रदेश में बीते कुछ दिनों में सियासी गतिविधियां काफी बढ़ गई हैं. कोरोना का प्रकोप कुछ थमा है तो सियासी दलों ने 2022 के चुनाव को देखते हुए अपनी-अपनी सक्रियता को बढ़ा दिया है. हालांकि, बीजेपी तो कोरोना काल के दौरान भी तमाम सारे कार्यक्रम पहले से ही करती रही है. वहीं, यूपी बीजेपी ने हाल ही में अपने 26 विभागों और 22 प्रकोष्ठों के संयोजक और सह संयोजकों की घोषणा की है, इसमें कई प्रकोष्ठ और विभाग ऐसे हैं जिनकी चुनाव में भूमिका काफी बढ़ जाती है.
ये हैं विभाग और प्रकोष्ठ
अगर विभाग की बात करें तो इसमें चुनाव प्रबंधन, नीति विषयक शोध विभाग, मीडिया संपर्क विभाग, राष्ट्रीय कार्यक्रम एवं बैठक विभाग, राष्ट्रीय महासंपर्क अभियान और आईटी विभाग काफी महत्वपूर्ण है. इसके अलावा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग में तमाम सारे मामलों को लेकर जाने के लिए चुनाव आयोग संपर्क विभाग भी बनाया गया है. वहीं, अगर प्रकोष्ठ की बात करें तो उसमें भी प्रबुद्ध प्रकोष्ठ, व्यवसायिक प्रकोष्ठ, आर्थिक प्रकोष्ठ, सहकारिता प्रकोष्ठ, शिक्षक प्रकोष्ठ, पंचायत प्रकोष्ठ और मछुआरा प्रकोष्ठ महत्वपूर्ण हैं.
350 से 400 पदाधिकारी होंगे शामिल
सोमवार को लखनऊ में पार्टी मुख्यालय पर ये बैठक सुबह 11 बजे बुलाई गई है, जिसमें तकरीबन 350 से 400 पदाधिकारी शामिल होंगे. ये बैठक सुबह से शुरू होकर देर शाम तक जारी रहेगी. माना जा रहा है कि इस बैठक में चाहे वो प्रकोष्ठ हो या फिर विभाग हो उन्हें 2022 के विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए किस रणनीति के तहत काम करना है, इस पर चर्चा की जाएगी. अलग-अलग लोगों को जिम्मेदारी भी सौंपी जाएगी.
चुनाव में महत्वपूर्ण भूमिका होती है
पार्टी के प्रवक्ता हरीशचंद्र श्रीवास्तव का साफतौर पर कहना है कि कुछ प्रकोष्ठ और विभाग ऐसे हैं जिनकी चुनाव में महत्वपूर्ण भूमिका होती है और कहीं ना कहीं पार्टी की रणनीति को आम लोगों तक पहुंचाने में उनका अहम योगदान होता है. हाल ही में पार्टी ने अपने सभी प्रकोष्ठ और विभागों की घोषणा की है, ऐसे में उनके साथ ये बैठक रखी गयी है. बैठक में प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और महामंत्री संगठन सुनील बंसल शामिल होंगे.
लगातार जारी है बीजेपी की तैयारी
बीते कुछ महीनों से लगातार बीजेपी में बैठकों का सिलसिला जारी है. पार्टी के पदाधिकारी कभी क्षेत्रीय अध्यक्षो के साथ तो कभी क्षेत्रीय प्रभारियों के साथ पहले पंचायत चुनाव पर रणनीति बनाते नजर आए और अब जब पंचायत चुनाव में पार्टी ने ऐतिहासिक जीत हासिल कर ली है तो सारा फोकस विधानसभा चुनाव पर है. ऐसे में अलग-अलग प्रकोष्ठ और विभागों के साथ होने वाली बैठक में 2022 के चुनाव को लेकर रणनीति तो तय होगी ही, साथ ही साथ सरकार की योजनाओं को कैसे कम समय में आम लोगों तक पहुंचाया जाए इस पर भी चर्चा जरूर होगी.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.