यूपी विधानसभा मानसून सत्र के आज दूसरे दिन 17 विधेयकों को सदन में पेश किया जाएगा। इनमें सार्वजनिक और निजी संपत्ति अध्यादेश की क्षति की वसूली, गौ-हत्या रोकथाम (संशोधन) अध्यादेश और सार्वजनिक स्वास्थ्य और महामारी नियंत्रण अध्यादेश है। इससे पहले गुरुवार को पहले दिन गुरुवार को सदन के दिवंगत तीन पूर्व सदस्यों और कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वाले सरकार के दो मंत्रियों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद सदन की कार्यवाही शुक्रवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित हो गई।

सभापति रमेश यादव ने सदन के  तीन पूर्व सदस्यों- सुनीता चौहान, रामकृष्ण द्विवेदी व लाल जी टंडन तथा राज्य मंत्रिमंडल की सदस्य रहीं कमल रानी वरुण और चेतन चौहान के निधन की सूचना दी। नेता सदन डा. दिनेश शर्मा, समाजवादी पार्टी के रामसुंदर दास निषाद, बसपा के दिनेश चंद्रा, कांग्रेस के दीपक सिंह, निर्दलीय समूह के राज बहादुर सिंह चंदेल, शिक्षक दल के सुरेश त्रिपाठी और भाजपा के लक्ष्मण प्रसाद आचार्य ने दिवंगत पूर्व सदस्यों और मंत्रियों के प्रति अपने दलों की ओर से श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

चीन के साथ हुए सैन्य संघर्ष में लद्दाख की गलवान घाटी में शहादत देने वाले वीर सैनिकों को भी सदन ने श्रद्धांजलि दी। सदस्यों ने खड़े होकर दो मिनट का मौन धारण कर दिवंगत जनों को श्रद्धांजलि दी।

राम सुन्दर दास निषाद सपा दल के नेता
नेता विरोधी दल अहमद हसन मानसून सत्र में भाग नहीं ले रहे हैं। उनकी जगह राम सुन्दर दास निषाद सपा दल के नेता बनाए गए हैं।

दर्शक दीर्घा में भी बैठे सदस्य
उच्च सदन में एक सीट छोड़ कर बैठने की व्यवस्था की गई है। तय दूरी का पालन करते हुए सदन लगभग पूरा भरा हुआ था। दर्शक दीर्घा में भी कुछ सदस्य इस दौरान बैठे दिखे।

यू ट्यूब प्रसारण में तकनीकी दिक्कत
मीडिया को लाइव प्रसारण देखने के लिए बुधवार को यू ट्यूब का लिंक उपलब्ध कराया गया था लेकिन तकनीकी अड़चन के कारण लाइव प्रसारण बाधित रहा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.