एटा के एक ही परिवार के पाँच लोगों की मौत के मामले में पुलिस ने सनसनी खेज खुलासा किया है। घर की बहू ने जहर देकर पहले सबको मारा और फिर खुद जहर खाकर आत्महत्या कर ली। एसएसपी ने बताया कि घर में कलह चल रही थी। बहू रुड़की शिफ्ट होना चाहती थी। इसी कारण इस वारदात को अंजाम दिया गया।

जानिए पूरा मामला :
एटा में एक ही परिवार के पांच लोगों का शव शनिवार सुबह मिला। घर से हारपिक और सल्फास की डिब्बी भी मिली थी। कोतवाली नगर के मोहल्ला शृंगार नगर में रिटायर्ड स्वास्थ्यकर्मी राजेश्वर प्रसाद पचौरी (75) पुत्र रामप्रसाद पचौरी रहते थे। उनकी पुत्रवधू दिव्या (35) पत्नी दिवाकर, नाती आरुष (8) आरव (एक) रहते थे। कुछ दिन पूर्व बेटे की साली बुलबुल निवासी सोनई (23) निवासी सोनई, हाथरस भी आ गई थी। शनिवार  सुबह दूध देने के लिए महिला आई थी। महिला ने गेट खटखटाया तो कोई आवाज नहीं आई। उसने अंदर झांककर देखा तो गेट के पास ही चारपाई पर दिव्या की लाश पड़ी दिखाई दी। यह देख वह चीख निकल गई। इस मामले की जानकारी आसपास के लोगों को दी गई। पूरा मोहल्ला जमा हो गया। अंदर से ताला बंद होने के कारण कुछ पता नहीं चल सका।
सूचना मिलने पर पुलिस पहुंच गई। तब तक परिवार के अन्य लोग भी पहुंच गए। पुलिस ने गैस कटर से गेट काटकर अंदर जाकर देखा तो सभी मृत पड़े थे। यह हाल देख कोहराम मच गया। मौके पर एसएसपी सुनील कुमार सिंह, डीएम सुखलाल भारती, एडीएम प्रशासन विवेक मिश्रा, एएसपी संजय कुमार, सदर विधायक विपिन वर्मा डेविड आदि लोग पहुंच गए। पुलिस ने डॉग स्क्वाउड आदि से जांच कराई है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.