जम्मू: पीएम मोदी के साथ कश्मीरी नेताओं की मीटिंग में पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने शामिल होने से इनकार कर दिया है. नेशनल कांफ्रेंस प्रमुख फारूक अब्दुल्ला गुपकार के नेता के रूप में सर्वदलीय बैठक में शामिल होंगे. सूत्रों के मुताबिक, पीडीपी ने यह निर्णय लिया है कि 24 जून को पीएम मोदी के साथ होने वाली सर्वदलीय बैठक में फारूक अब्दुल्ला पीपुल्स एलायंस फॉर गुपकार डिक्लेरेशन का नेतृत्व करेंगे.
हालांकि पीडीपी प्रवक्ता सैयद सुहैल बुखारी ने कहा, “पीडीपी की राजनीतिक मामलों की समिति की आज बैठक हुई. सभी सदस्यों ने तय किया है कि इस संबंध में अंतिम फैसला महबूबा मुफ्ती ही लेंगी, सभी सदस्यों ने उन्हें अधिकृत किया है. दो दिन में पीपुल्स एलायंस फॉर गुपकार डिक्लेरेशन की बैठक होगी. इस मामले पर वहां भी चर्चा होगी.”

वहीं एक दिन पहले महबूबा मुफ्ती ने कहा था, “नई दिल्ली के साथ बात करने का कोई स्पष्ट एजेंडा नहीं है. मुझे बताया गया कि आम स्थिति की समीक्षा करने और राजनीतिक प्रक्रिया को आगे कैसे ले जाया जाए, इसके लिए बैठक बुलायी गयी है. कोई स्पष्ट एजेंडा नहीं है.”
पीएम मोदी 24 जून को कश्मीर के सभी राजनीतिक दलों के साथ करेंगे बैठक
जम्मू कश्मीर में विधानसभा चुनाव कराने सहित राजनीतिक प्रक्रियाओं को मजबूत करने की केंद्र की पहल के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 जून को वहां के सभी राजनीतिक दलों के साथ बैठक की अध्यक्षता कर रहे हैं. 5 अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 को निरस्त करने और तत्कालीन जम्मू-कश्मीर राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के लगभग दो साल बाद, एक महत्वपूर्ण पहल में, प्रधानमंत्री मोदी जम्मू से मुख्यधारा के राजनीतिक दलों के साथ बैठक करेंगे.
सूत्रों का कहना है कि केंद्रशासित प्रदेश में राजनीतिक गतिरोध को खत्म करने के लिए केंद्र मुख्यधारा के राजनीतिक दलों तक पहुंच बना रहा है. जम्मू-कश्मीर के लिए राज्य का दर्जा बहाल करने की अटकलों के बीच यह बैठक हो रही है. इस बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और अन्य केंद्रीय नेताओं के भाग लेने की संभावना है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.