वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट जगत को अलविदा कह दिया है। जानकारी के अनुसार, ब्रावो हालांकि विश्व भर में टी-20 लीग में खेलना जारी रखेंगे। मीडिया को दिए बयान में ब्रावो ने कहा, “मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि मैंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों से आधिकारिक रूप से संन्यास ले लिया है। 14 साल पहले मैंने वेस्टइंडीज के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया था और मुझे अब भी वह पल याद है, जब मुझे मरून कैप मिली थी।”

ब्रावो ने कहा, “साल 2004 में जुलाई में इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स क्रिकेट मैदान पर मुझे यह मरून कैप मिली थी। उस वक्त जो जुनून और प्रेरणा मुझे मिली, वह इतने साल के करियर के दौरान मेरे साथ रही।”

उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि वह भी अन्य खिलाड़ियों की तरह युवा पीढ़ी को आगे बढ़ने का मौका दें। 35 वर्षीय ब्रावो ने 2004 में पदार्पण के बाद 40 टेस्ट मैच, 164 वनडे और 66 टी-20 मैच खेले। पिछली बार दो साल पहले उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला था, जो पाकिस्तान के खिलाफ था।

ड्वेन ब्रावो ने अपने ऑलराउंड खेल से दुनिया भर में अच्छी पहचान बनाई। लेकिन भारत में ब्रावो के प्रशंसकों को बढ़ाने में योगदान दिया इंडियन प्रीमियर लीग ने। भारत में उनका अलग ही प्रशसंक वर्ग हैं और वह भारत में काफी लोकप्रिय हैं। वैसे चेन्नई सुपर किंग्स के प्रशंसकों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। ब्रावो आईपीएल सहित दुनिया की तमाम टी-20 लीग में खेलना जारी रखेंगे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.