सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के फाउंडर बिल गेट्स ने कहा है कि कोरोना वैक्सीन को लेकर पूरी दुनिया की निगाहें भारत पर टिकी हुई हैं क्योंकि वैक्सीन की खोज के बाद भारत में क्षमता है कि उसका उत्पादन तेजी से बढ़ा सके। बिल गेट्स ने कहा है कि उन्हें कोरोना वायरस वैक्सीन काे उत्पादन के लिए भारत की जरूरत है। बिल गेट्स ने उम्मीद जताई है कि अगले साल की शुरुआत तक भारत में बड़े स्तर पर कोरोना वैक्सीन का उत्पादन होगा और पूरी दुनिया को वैक्सीन की सप्लाई होगी। बिल गेट्स ने समाचार एजेंसी पीटीआई को दिए इंटरव्यू में यह सब बातें कही हैं।
बिल गेट्स ने कहा कि जब यह पक्का हो जाएगा की वैक्सीन प्रभावी और सुरक्षित है तो हम सभी चाहेंगे कि भारत से जितना जल्दी हो उतना जल्दी वैक्सीन का उत्पादन होकर दुनिया में इसकी सप्लाई हो। बिल गेट्स ने कहा है कि कोरोना वायरस की ज्यादतर वैक्सीन के ट्रायल फाइनल स्टेज की ओर बढ़ रहे हैं और उम्मीद है कि अगले साल की पहली तिमाही में वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी। बिल गेट्स ने कहा कि भारत में वैक्सीन का बड़े स्तर पर उत्पादन होता है और कोरोना वैक्सीन के उत्पादन को बढ़ाने में भी भारत की मदद की जरूरत होगी। उन्होंने कहा कि दुनिया में वैक्सीन की कहीं भी खोज हो लेकिन भारत में उसका उत्पादन होगा।
गौरतलब है कि भारतीय फार्मा इंडस्ट्री बड़े पैमाने पर पूरी दुनिया के लिए अलग-अलग तरह की वैक्सीन का उत्पादन करती है, भारतीय फार्मा उद्योग के पास किसी भी वैक्सीन का उत्पादन तेजी से बढ़ाने की क्षमता है और इसी क्षमता को देखते हुए पूरी दुनिया भारत की तरफ देख रही है। कोरोना की वैक्सीन दुनिया के किसी भी कोने में खोजी जाए, उसका उत्पादन भारत की क्षमता को देखते हुए उसका उत्पादन यहां करना ही पड़ेगा।
भारत सहित पूरी दुनिया में कोरोना वायरस वैक्सीन का इंतजार बेसब्री से हो रहा है। भारत में कोरोना मामले 50 लाख के करीब पहुंच चुके हैं जबकि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस मामलों का आंकड़ा हफ्तेभर में 3 करोड़ के आंकड़े को पार कर सकता है। दुनियाभर में वायरस के तेजी से फैलते संक्रमण की वजह से पूरी दुनिया में इसकी वैक्सीन का इंतजार हो रहा है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.