एटा। नेशनल हाईवे-91 (अलीगढ़-कानपुर) पर गांव छछैना के निकट शुक्रवार शाम निर्माणाधीन पुल के चार स्लैब गिर गए। स्लैब के नीचे दबकर जेसीबी मशीन और एक मैक्स गाड़ी चकनाचूर हो गई। मैक्स सवार दो लोगों की मौत हो गई। स्लैब गिरने से हाइड्रा के चालक सहित दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुल के हादसे की जानकारी मिलने पर जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को तत्काल मौके पर पहुंचकर बचाव और राहत कार्य संचालित करने का निर्देश दिया है।

एटा-कानपुर हाईवे पर निर्माणाधीन पुल पर शुक्रवार शाम छह बजे हाइड्रा मशीन से स्लैब सेट किए जा रहे थे। तभी अचानक एक-एक कर चार स्लैब गिर गए। स्लैब गिरने से हाइड्रा के चालक सहित दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। पुल के नीचे से गुजर रही मैक्स गाड़ी पर भी एक स्लैब गिर गया। इसमें सवार दोनों लोग गाड़ी में ही दब गए। मौके पर मौजूद एक जेसीबी भी स्लैब की चपेट में आ गई मगर स्लैब गिरते देख जेसीबी चालक ने कूदकर अपनी जान बचा ली।

मृतकों की शिनाख्त नरेश निवासी फीरोजाबाद और पुष्पेंद्र निवासी एटा के रूप में हुई। घायलों मे हाइड्रा मशीन चालक नरेश निवासी नगला शंकर, छर्रा (अलीगढ़) और मनवीर निवासी एटा शामिल हैं। शासन ने जांच को एनएचएआइ के परियोजना निदेशक सुनील जिंदल और डीजीएम पीपी सिंह को एटा भेजा है। एटा के जिलाधिकारी सुखलाल भारती ने बताया कि एनएच-91 पर निर्माणाधीन पुल के चार स्लैब गिरे हैं, जिसमें दो लोगों की मौत हुई है। दो घायल हुए हैं। हादसे की जांच कराई जाएगी।

सीएम का अफसरों को राहत कार्य में जुटने का निर्देश
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एटा में भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की ओर से बनाए जा रहे पुल के हादसे की जानकारी मिलने पर जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को तत्काल मौके पर पहुंचकर बचाव और राहत कार्य संचालित करने का निर्देश दिया है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.