रामपुर में आज जबर्दस्त राजनीतिक जंग छिड़ने वाली है। समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान के जौहर यूनिवर्सिटी पर छापे और विधायक अब्दुल्ला आजम से पूछताछ से नाराज समाजवादी पार्टी (सपा) के कार्यकर्ता बुधवार यानी आज रामपुर में विरोध प्रदर्शन के लिए जुटने लगे हैं। बताया जा रहा है कि यहां 10 हजार समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता और नेता एकत्रित होंगे।

समाजवादी पार्टी अपने सांसद आजम खां पर रामपुर जिला प्रशासन की एकतरफा कार्रवाई का आरोप लगा रही है। इसी के खिलाफ आज रामपुर में समाजवादी पार्टी का प्रदर्शन है। रामपुर के साथ ही पास के जिलों से यहां पर समाजवादी पार्टी के नेताओं के आने की सूचना पर रामपुर में धारा 144 लगा दी गई है। यहां जिला प्रशासन की अलर्ट पर है।

विधायक अब्दुल्ला आजम की गिरफ्तारी के बाद सपाइयों ने प्रदर्शन का एलान किया है। इसको लेकर चौकसी बरती जा रही है। जिलों में वाहनों की जांच की जा रही है। पाकबड़ा में रामपुर जाते समय सम्भल क्षेत्र की असमौली विधायक पिंकी यादव के साथ पुलिस की नोकझोंक हो गई। रामपुर जाते समय पुलिस द्वारा रोके जाने पर विधायक इकबाल महमूद कार्यकर्ताओं के साथ सड़क पर ही बैठ गए।

रामपुर में मिलक के धनेली पूर्वी गांव के पास बरेली बॉर्डर पर सपाइयों को रामपुर आने से रोकने के लिए बेरीकेडिंग लगा दी है। वाहनों की सघन चेकिंग की जा रही है। इस दौरान लखनऊ-दिल्ली हाईवे पर जाम भी लग गया। वहीं अमरोहा में जिला प्रशासन ने सपा नेता व पूर्व मंत्री महबूब अली के घर को छावनी बना दिया।

गुरुवार सुबह उन्होंने रामपुर जाने का एलान किया था। इसके बाद सुबह से ही समर्थक घर पर जुटने शुरू हो गए थे। मुरादाबाद में रामपुर बार्डर पर पुलिस ने वाहनों की जांच शुरू कर दी है। सपा नेताओं के घरों पर पुलिस ने डेरा जमा लिया है। पुलिस किसी भी हाल में सपाइयों को रामपुर जाने से रोकना चाहती है। रामपुर में जिला अधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह और पुलिस अधीक्षक डॉ अजय पाल शर्मा खुद भ्रमण कर स्थिति का जायजा ले रहे हैं। डीएम का कहना है कि हम हर स्थिति से निपटने को तैयार हैं। किसी भी स्थिति में माहौल खराब नहीं होने दिया जाएगा। जिले की शांति व्यवस्था बनाए रखना हमारी प्राथमिकता में शामिल है।

आजम खां के खिलाफ रामपुर के जिला व पुलिस प्रशासन की कार्रवाई के खिलाफ समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने नेताओं और कार्यकर्ताओं को रामपुर कूच का निर्देश दिया है। अखिलेश यादव ने बदायूं, संभल, मुरादाबाद, अमरोहा, पीलीभीत, बरेली व बिजनौर के समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को रामपुर पहुंचने का निर्देश दिया है। इसी कारण समाजवादी पार्टी के शक्ति प्रदर्शन को लेकर रामपुर पुलिस अलर्ट पर है। रामपुर में धारा 144 लागू कर दिया गया है। पुलिस किसी भी अप्रिय वारदात से निपटने की तैयारी में है। रामपुर के सभी प्रवेश मार्ग पर गहन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। पुलिस के साथ ही पैरा मिलिट्री भी तैनात की गई है।

समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खां की जौहर यूनिवर्सिटी को लेकर प्रशासन की कार्रवाई के बाद रामपुर में तनाव काफी बढ़ता दिख रहा है। यहां पर बड़ी संख्या में समाजवादी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता रामपुर पहुंचने लगे हैं। इस बीच प्रशासन ने यहां सुरक्षा बंदोबस्त कड़े कर दिए हैं। कांवड़ यात्रा के साथ ही बकरीद की तैयारी को लेकर यहां धारा 144 लागू है। इसके साथ ही आज किसी भी आशंका को देखते सीमाएं सील कर दी गई हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.