लखनऊ। दूल्‍हें के फूफा की तरह भाजपा से नाराज चल रहे ओमप्रकाश राजभर ने आखिकरकार भाजपा का साथ छोड़ दिया। टिकट को लेकर भारतीय जनता पार्टी से नाराज चल रहे सुहैल देव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने उत्तर प्रदेश कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है। इससे पहले भी राजभर सार्वजनिक रूप से भाजपा पर निशाना साधने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे थे। राजभर ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि मैंने 13 की रात को इस्तीफा दे दिया था। भाजपा ने मुझसे कहा कि आप हमारे सिंबल पर चुनाव लड़िये, मैंने उनसे कहा कि चुनाव हम अपने सिंबल पर और एक सीट पर ही लड़ेंगे। भारतीय जनता पार्टी किसी भी बात पर नहीं मानी। मेरी इस्तीफा भी मंजूर नहीं किया। मैंने इस संबंध में चुनाव आयोग से शिकायत भी की।इससे पहले हाल ही में एक जनसभा के दौरान राजभर ने कहा कि 14 मार्च को सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने मुझे रात के 12 बजे अपने आवास पर बुलाया था। मैं वहां गया तो वहां भाजपा के प्रदेश चुनाव प्रभारी जेपी नड्डा मौजूद थे। उन्होंने हमसे कहा कि आप हमारी पार्टी के सिम्बल से चुनाव लड़ जाओ हम आप को घोसी लोकसभा सीट से उम्मीदवार बना रहे हैं। उन्होंने कहा,” मैंने इंकार कर दिया और कहा कि यह संभव नहीं है तो उन्होंने कहा कि तुम्हें यह करना होगा जिस पर मैंने सख्ती से मना किया और आज आपके सामने हूं, तीन मंत्री पद और पांच सदस्यों का इस्तीफा दिलवाकर क्योंकि हमें पार्टी चाहिए जो हमारी आवाज है, आप की आवाज़ है।”

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.