इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन का आगाज 19 सितंबर से युनाइटेड अरब अमीरात (यूएई) में होना है। आईपीएल की तैयारियों सभी फ्रेंचाइजी टीमें लग चुकी हैं। तीन बार की आईपीएल चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) की टीम के सामने एक बड़ी मुश्किल खड़ी हो गई है। टीम के कई ओवरसीज खिलाड़ी शुरुआती ट्रेनिंग कैंप में टीम से नहीं जुड़ सकेंगे। दक्षिण अफ्रीका के फैफ डु प्लेसी और लुंगी एनगिडी ट्रेनिंग कैंप में थोड़ा देरी से शामिल हो सकते हैं।

फैफ पारिवारिक कारणों से टीम से कुछ देरी से जुड़ेंगे। इसी तरह लुंगी एनगिडी भी यूएई में टीम के साथ थोड़ा देरी से जुड़ेंगे। टीम के कोच स्टीफन फ्लेमिंग और माइक हस्सी के अलावा टीम के ऑल-राउंडर शेन वॉटसन 22 अगस्त तक यूएई पहुंच जाएंगे। हालांकि, ड्वेन ब्रावो, इमरान ताहिर और मिशेल सैंटनर कब तक टीम से जुड़ेंगे इसको लेकर फिलहाल फैसला नहीं हो सका है। ये तीनों ही कैरेबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) का हिस्सा हैं, जो 18 अगस्त से शुरू हो रहा है।

इसके अलावा ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड और इंग्लैंड के सैम करन भी मिड-सितंबर से पहले टीम से नहीं जुड़ सकेंगे। 15 अगस्त से सीएसके चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में फिटनेस कैंप शुरू करने की तैयारी में है। पांच दिन के इस कैंप में खिलाड़ियों की फिटनेस और फॉर्म पर खास नजर होगी। सीएसके के गेंदबाजी कोच लक्ष्मीपति बालाजी ने कहा कि हम वहीं से शुरुआत करना चाहेंगे, जहां हमने मार्च में छोड़ा था। आईपीएल 29 मार्च से खेला जा था और सीएसके ने इसके लिए ट्रेनिंग कैंप शुरू कर दिया था, लेकिन कोविड-19 के चलते आईपीएल को स्थगित करना पड़ा। बालाजी ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए कहा, ‘हर खिलाड़ी का अलग रूटीन होगा, आईपीएल की तैयारी के लिए। हमारा प्लान है कि हम उनको अपने शरीर और फॉर्म को समझने के लिए पूरी आजादी दें।’

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.